विधायक के हस्तक्षेप के बाद रुका गांधी चबूतरे पर निर्माण कार्य

बाह। बाह तहसील आगरा का वह क्षेत्र रहा हैं जहाँ से अनेकों क्रांतिकारी गतिविधिया चली थी। जहाँ महात्मा गाँधी ने पहुँच कर बाह में स्थित एक चबूतरे पर से स्वाधीनता संग्राम के लिए अंग्रेजो के खिलाफ हुंकार भरी थी। जो स्थान स्वतंत्रता सेनानियों की गतिविधियों का प्रमुख केंद्र रहा हैं।

ऐतिहासिक विरासत की कौडिय़ों के भाव में नीलामी का आरोप लगाकर ग्रामीणों ने सांसद एवं विधायक को अवगत कराकर डीएम से निर्माण रुकवाने की मांग की थी। शनिवार को सांसद और विधायक के हस्तक्षेप के बाद निर्माण कार्य को रोका गया। ग्रामीणों ने बताया कि सांसद राजकुमार चाहर ने मामले की जांच कराने तथा विधायक पक्षालिका सिंह ने ऐतिहासिक विरासत से किसी भी तरह की छेड़छाड़ सहन न करने की बात कही हैं।

ग्रामीणों का कहना हैं कि अगर यहां पर कोई भी निर्माण कार्य चला तो हम यह सहन नहीं करेंगे। यह ऐतिहासिक मैदान क्रांतिकारियों की स्मृति हैँ। इसका संरक्षण हम ग्रामीणों को करना हैं,अगर जनप्रतिनिधि इसका ख्याल नहीं रखते हैं तो हमें सामने आना पड़ेगा। प्रशासन से यही अनुरोध किया हैं कि इस अमूल्य स्थान को किसी भी प्रकार से मिटने से रोका जाए।