प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बंगाल दौरे पर कांग्रेस ने दिखाए काले झंडे, विरोध में लगाए नारे

नई दिल्ली-  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस वक्त दो दिवसीय पश्चिम बंगाल दौरे पर है. उनके इस दौरे के दौरान कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का विरोध किया, उन्हें काले झंडे दिखाए और ‘गो बैक’ के नारे लगाए. यह घटना तब हुई, जब प्रधानमंत्री कोलकाता पोर्ट ट्रस्ट के 150 साल पूरे होने के समारोह के उद्घाटन कार्यक्रम के लिए नेताजी इंडोर स्टेडियम में प्रवेश कर रहे थे.

कार्यक्रम स्थल पर मुट्ठी भर कांग्रेसी कार्यकर्ता यहां वीआईपी गेट के समक्ष एकत्रित हो गए और भारी पुलिस दल की मौजूदगी में प्रधानमंत्री के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करने लगे. हाथों में काला कपड़ा लिए वे ‘गो बैक मोदी’ के नारे लगा रहे थे. आवक पुलिसकर्मी भी कुछ देर बाद हरकत में आए और प्रदर्शन को रोकने की कोशिश की. लेकिन प्रदर्शनकारी उग्र हो गए और बल पूर्वक पुलिस बैरिकेड्स को लांघ कर वे स्टेडियम में घुसने का प्रयत्न करने लगे. पुलिस ने कुछ प्रदर्शनकारियों को पकड़ लिया. उन्हें लालबाजार शहर के पुलिस मुख्यालय ले जाया गया है.

बता दें, इससे पहले पश्चिम बंगाल के दौर पर गए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मुख्यमंत्री बनर्जी पर जमकर हमला बोला. उन्होंने डॉक्‍टर श्‍यामा प्रसाद मुखर्जी और बाबा साहब भीमराव आंबेडकर के बहाने ममता बनर्जी पर आरोप लगाया. प्रधानमंत्री मोदी ने ममता बनर्जी का नाम लिए बिना कहा कि कटमनी, सिंडिकेट नहीं होने की वजह से केंद्र की योजनाओं को राज्‍य की मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी लागू नहीं कर रही हैं.

प्रधानमंत्री ने अपने दो दिवसीय पश्चिम बंगाल दौरे पर ममता बनर्जी पर जमकर हमला बोला. बेलूर मठ में रात गुजार पर उन्होंने बड़ा संदेश दिया. उन्होंने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि केंद्र की कई योजनाएं राज्य में लागू नहीं की जा रही हैं. इसमें आयुष्मान भारत और पीएम किसान सम्मान निधि योजना शामिल है. प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि जैसे ही पश्चिम बंगाल राज्य सरकार आयुष्मान भारत योजना, पीएम किसान सम्मान निधि के लिए स्वीकृति देगी, यहां के लोगों को इन योजनाओं का भी लाभ मिलने लगेगा. मैं प्रार्थना करूंगा कि (ममता सरकार को) ईश्‍वर सद्बुद्धी दे और राज्‍य में आयुष्‍मान भारत योजना और पीएम किसान सम्मान निधि लागू हो.एजेंसी