उत्तर प्रदेश में कोरोना को लेकर सर्वदलीय बैठक में सीएम योगी ने बोली ये बाते

उत्तर प्रदेश में कोरोना को लेकर सर्वदलीय बैठक में सीएम योगी ने बोली ये बाते

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस बेकाबू हो गया है। रविवार को प्रदेश में कोविड-19 के रिकॉर्ड 15353 नए मामले सामने आए हैं। स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार, पिछले 24 घंटे में 15,353 नए मामले दर्ज किए गए हैं। 6,11,622 लोग अस्पताल से ठीक होकर घर जा चुके हैं। राज्य में सक्रिय मरीजों की संख्या 71,241 हो गई है। वहीं, अबतक 85,15,296 लोगों को कोरोना वायरस का टीका लगाया जा चुका है। उधर, कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए आगरा में भी कल से 20 अप्रैल तक रात्रि कर्फ्यू लगाया जाएगा। इसकी जानकारी जिलाधिकारी ने दी।

राज्य में कोविड के बढ़ते मामलों की रोकथाम के लिए राज्यपाल आनंदीबेन पटेल द्वारा राजभवन में सर्वदलीय बैठक गई। इस बैठक में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी पहुंचे। मुख्‍यमंत्री ने कहा, ‘मैं आभारी हूं राज्यपाल का कि इस सर्वदलीय बैठक की अध्यक्षता को स्वीकार किया। कोविड की दूसरी लहर और उसके तीव्र संक्रमण ने एक चिंता हम सभी के सामने प्रस्तुत की है। सीएम योगी ने कहा कि जो लापरवाही हर स्तर पर होने लगी थी, सब ने मान लिया कि अब कोरोना समाप्त हो गया है और वैक्सीन आने के बाद लोग और भी निश्चिंत हो गए। उत्तर प्रदेश में 15,000 मामले एक दिन में आए हैं, महाराष्ट्र में यही संख्या 60,000 है। बीमारी के उपचार से महत्वपूर्ण बचाव और सावधानी है।

आगरा में 20 अप्रैल तक नाइट कर्फ्यू

बता दें, उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस के मामलों में लगातार वृद्धि हो रही है। आज राज्य में 15353 नए मरीज मिले हैं। इसी बीच बढ़ते केसों के मद्देनजर आगरा में 20 अप्रैल तक रात्रि कर्फ्यू लगाया जाएगा। इसकी जानकारी जिलाधिकारी ने दी।आगरा के डीएम प्रभु नारायण सिंह ने कहा, कोविड-19 के मामलों में वृद्धि को देखते हुए आगरा में रात 10 से सुबह 6 बजे तक रात्रि कर्फ्यू लगाया जाएगा।

कर्फ्यू की शुरुआत कल से होगी और यह 20 अप्रैल तक लागू रहेगा। इसके अलावा 30 अप्रैल तक सभी स्कूल बंद रहेंगे। इसके अलावा सीतापुर में कोविड के संक्रमण के प्रकरणों पर प्रभावी नियंत्रण के लिए 11 अप्रैल से 19 अप्रैल तक रात 9 बजे से सुबह 6 बजे तक नगरीय क्षेत्रों में रात्रिकालीन आवागमन एवं संव्यवहार तत्काल प्रभाव से प्रतिबंधित रहेगा। यह जानकारी सीतापुर के जिलाधि‍कारी ने दी।

Share