राजसमंद में जीती BJP,सहाड़ा-सुजानगढ़ सीट पर कांग्रेस का कब्जा बरकरार

राजसमंद में जीती BJP,सहाड़ा-सुजानगढ़ सीट पर कांग्रेस का कब्जा बरकरार

राजस्थान। राजस्थान में हुए तीन विधानसभा क्षत्रों के उपचुनाव के लिए रविवार को जिला मुख्यालयों पर कोविड संबंधी सभी दिशा-निर्देशों की पालना के साथ मतगणना करवाई गई। इस दौरान दिवंगत विधायकों के परिजनों ने अपनी-अपनी सीट पर कब्जा बरकरार रखा है।राजसमंद सीट बीजेपी और सहाड़ा व सुजानगढ़ कांग्रेस के पास थी। राजसमंद में दीप्ति माहेश्वरी ने जीत हासिल की है,जबकि सुजानगढ़ सीट पर कांग्रेस के मनोज कुमार मेघवाल और सहाड़ा सीट पर गायत्री देवी ने विजय पताका फहराई है।दरसअल,सुजानगढ़ से निवर्तमान विधायक मास्टर भंवरलाल मेघवाल,सहाड़ा से विधायक कैलाश त्रिवेदी और राजसमंद से विधायक किरण माहेश्वरी के निधन के बाद उपचुनाव कराए गए थे।मेघवाल और त्रिवेदी कांग्रेस के विधायक थे,जबकि माहेश्वरी बीजेपी विधायक थीं।दोनों ही पार्टियों ने उनके परिवार के सदस्यों को टिकट दिया था।

भीलवाड़ा जिले की सहाड़ा,राजसमंद जिले की राजसमंद और चूरू जिले की सुजानगढ़ विधानसभा सीटों के लिए 17 अप्रैल को वोटिंग करवाई गई थी। बीजेपी ने सुजानगढ़ में खेमाराम मेघवाल,सहाड़ा में रतनलाल जाट व राजसमंद में दीप्ति माहेश्वरी को उम्मीदवार बनाया था। वहीं, कांग्रेस ने सुजानगढ़ सीट पर मनोज कुमार मेघवाल,सहाड़ा सीट पर गायत्री देवी व राजसमंद सीट पर तनसुख बोहरा को टिकट दी थी। तीनों सीटों पर कुल मिलाकर 27 प्रत्याशी थे,जहां कुल 743802 मतदाता थे।

राजस्थान में मतगणना के दौरान एक मतगणना एजेंट को पीपीई किट में बिठाने की व्यवस्था की गई थी, ताकि किसी भी हाल में संक्रमण का प्रसार ना हो सके। ईवीएम को स्ट्रांग रूम से मतगणना हॉल में लाने ले जाने वाले सभी कार्मिकों को मास्क लगाना अनिवार्य किया गया था। सुजानगढ़ में 30,सहाड़ा में 28 और राजसमंद में 25 राउंड में मतगणना करवाई गई। पूर्व में दोपहर तक मतगणना के नतीजे आ जाते थे,लेकिन इन सब कारणों के साथ कोविड के दिशा-निर्देशों के चलते अब देर शाम तक नतीजे आने की संभावना है।

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने रविवार को लोगों से अपील की थी कि वे विधानसभा सीटों पर उपचुनाव के नतीजों पर किसी तरह का जश्न नहीं मनाएं और संयम व अनुशासन का परिचय दें। गहलोत ने ट्वीट किया,’‘राज्य में तीन सीटों पर हुए उपचुनाव के नतीजे घोषित होंगे,परिणामों को देखते हुए मेरी अपील है कि कोरोना संक्रमण के मद्देनजर किसी भी प्रकार का जश्न न करें,भीड़ इकट्ठी न करें, एकत्रित होकर या बाहर आकर पटाखे छोड़ने सहित किसी भी प्रकार का कार्यक्रम न किया जाए। राजनैतिक दलों के नेता, कार्यकर्ता,विजेता,समर्थक आदि सभी चुनाव परिणामों को लेकर शांतिपूर्ण तरीके से बर्ताव करें,वर्तमान में बनी हुई स्थिति को देखते हुए हम सभी का अनुशासनात्मक व्यवहार बेहद आवश्यक है।’

Share