बड़ी खबर: नक्सल हमले में 22 जवान हुए वीरगति को प्राप्त

बड़ी खबर: नक्सल हमले में 22 जवान हुए वीरगति को प्राप्त

नई दिल्ली। छत्तीसगढ़ के सुकमा-बीजापुर में नक्सल हमले में 22 सुरक्षाकर्मियों की जान चली गई है, एसपी बीजापुर, कमलोचन कश्यप ने ये जानकारी दी है। इससे पहले नक्सली हमले के बाद 21 जवान लापता बताए जा रहे थे। लेकिन अभी मिली ताजा जानकारी के अनुसार 22 सुरक्षकर्मी इस हमले में शहीद हुए हैं। सुरक्षाबलों को नक्सलियों के बीच हुइ मुठभेड़ में 24 घायल जवानों को बीजापुर अस्पताल में भर्ती किया गया है। वहीं सात जवानों को इलाज के लिए रायपुर भेजा गया है। कोबरा कमांडो के एक जवान का शव बरमाद किया गया है। शव को एयरलिफ्ट करके जगदलपुर भेज दिया गया है।

देश के गृह मंत्री अमित शाह ने इस मुठभेज में शहीद हुए जवानों को अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट कर श्रद्धांजलि दी है। उन्होंने लिखा है कि छत्तीसगढ़ में नक्सलियों से लड़ते हुए शहीद हुए हमारे बहादुर सुरक्षाकर्मियों के बलिदान को नमन करता हूं। राष्ट्र उनकी वीरता को कभी नहीं भूलेगा। मेरी संवेदना उनके परिवारों के साथ है। हम शांति और प्रगति के इन दुश्मनों के खिलाफ अपनी लड़ाई जारी रखेंगे। घायल जवान जल्द ठीक हों ये कामना हैं।

बता दें कि शनिवार को मिली जानकारी के अनुूसार बीजापुर में नक्सली के साथ मुठभेड़ में 5 जवान शहीद हुए। यह मुठभेड़ बीजापुर जिले के तर्रेम क्षेत्र में हुई। इस बाबत राज्य के पुलिस महानिदेशक डीएम अवस्थी ने बताया कि नक्सल विरोधी अभियान को लेकर सीआरपीएफ की कोबरा बटालियन, डीआरजी और एसटीएफ के जवानों पर यह हमला हुआ।

हालांकि जवानों ने भी आनन-फानन में मोर्चा संभाला। फिर जवाबी कार्रवाई भी की। उन्होंने कहा कि सुरक्षा बल लगातार घायल जवानों को वहां से निकालने की कोशिश में जुटे हुए हैं। डीएमअवस्थी ने बताया कि इस मुठभेड़ में DRG के 4 और CRPF के 1 जवान शहीद हुए है। इससे पहले भी 23 मार्च को ही नारायणपुर जिले में सुरक्षाकर्मियों से भरी बस पर नक्सलियों ने IED से हमला किया था। जिसमें भी 5 सुरक्षाकर्मी शहीद हो गए थे। एजेंसी

Share