बड़ी लापरवाही: बिहार के अस्पताल से गायब हुआ कोरोना मरीज,चिराग ने लिखी सीएम नीतीश को चिट्ठी

नई दिल्ली। लोक जनशक्ति पार्टी के नेता चिराग पासवान ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को एक कोरोना मरीज के गायब होने के सम्बंध में चिट्ठी लिखी है और इस मामले में उनकी तरफ से मदद मांगी है।

दरअसल, चिराग पासवान के लोकसभा क्षेत्र जमुई के शेखपुरा इलाके के निवासी रंजीत कुमार कैंसर पीड़ित हैं और उनका इलाज गुजरे 6 महीने से मुम्बई में चल रहा था। लेकिन 25 जून को रंजीत ने अपना चेकअप कराया जहां वो कोरोना संक्रमण पाए गए।

कोरोना पॉजिटिव आने के बाद से ही रंजीत को शेखपुरा आइसोलेशन सेंटर में रखा गया। इसके बाद रंजीत को शेखपुरा आइसोलेशन सेंटर से पटना एनएमसीएच के लिए रेफ़र कर दिया गया और फिर 3 जुलाई उन्हें को एनएमसीएच हॉस्पीटल में इनको भर्ती करवाया गया। लेकिन इसके बाद से ही रंजीत लापता हो चुके हैं।

चिराग ने चिट्ठी में लिखा है कि 6 जुलाई को जब रंजीत का परिवार उनसे मिलने लगा तो वो लापता हो चुके थे। परिवार ने उन्हें ढूंढने के लिए कई चक्कर लगाए लेकिन वो गायब हो चुके थे।

इसके बाद से ही रंजीत की पत्नी अनिता अपने पति को पाने के लिए प्रदेश सरकार और अस्पताल प्रशासन से अकेली लड़ रही हैं। इसी विषय पर जांच के लिए चिराग ने सीएम नीतिश कुमार से अपील की है।

वहीँ इस मामले में चिराग ने भी अपने स्तर से सभी जानकारी ली हैं। चिराग ने ये भी देखा कि अनीता की मदद के लिए कोई सामने नहीं आया है। उधर, परिवार को ये भी शक है कि रंजीत की मौत हो चुकी है लेकिन अस्पताल प्रशासन इस बारे में जानकारी नहीं दे रहा है। एजेंसी