बंगाल चुनाव 2021: भाजपा को एक ‘बड़ा रसगुल्ला’ मिलेगा- ममता बनर्जी 

बंगाल चुनाव 2021: भाजपा को एक ‘बड़ा रसगुल्ला’ मिलेगा- ममता बनर्जी 

कोलकाता।पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी ने विधानसभा चुनाव के पहले चरण में 30 सीटों में से 26 पर भाजपा  के जीतने के केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के दावे को खारिज कर दिया और कहा कि उनके हाथ एक भी सीट नहीं आएगी। बंगाल के चंडीपुर में रविवार को एक जनसभा को संबोधित करते हुए टीएमसी सुप्रीमो ने पूछा कि आखिर भाजपा ने सभी 30 सीटों पर जीत का दावा क्यों नहीं किया या फिर उसे कांग्रेस और माकपा के लिए छोड़ दिया है।ममता ने कहा, ‘भाजपा को एक बड़ा रसगुल्ला (जीरो) मिलेगा।’

गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल की सभी 294 सीटों पर 27 मार्च से 29 अप्रैल के बीच विधानसभा चुनाव आठ चरणों में हो रहे हैं, जिसमें से 27 मार्च को पहले चरण का चुनाव संपन्न हो गया है।अब एक अप्रैल, छह अप्रैल, दस अप्रैल, 7 अप्रैल, 22 अप्रैल, 26 अप्रैल और 29 अप्रैल को चुनाव होंगे, जबकि मतों की गिनती दो मई को होगी।

अमित शाह ने रविवार को दिन में नई दिल्ली में अपने आवास पर संवाददाता सम्मेलन में बंगाल में पहले चरण के चुनाव में 26 सीटों पर जीत का दावा किया था।बनर्जी ने शाह का नाम लिए बगैर सवाल किया कि चुनाव होने के महज एक दिन बाद ही इस तरह का दावा कैसे किया जा सकता है? उन्होंने कहा, ‘क्या उन्होंने (अमित शाह) ईवीएम को ‘हैक’ किया था या ‘वोट लूटे’ थे जो इस तरह के दावे कर रहे हैं।’

अमित शाह पर निशाना साधते हुए बनर्जी ने कहा, ‘आप देश के गृह मंत्री हैं।आप सत्ता के दुरुपयोग की जानकारी दे रहे हैं और लोगों को उलझन में डाल रहे हैं।’ उन्होंने कहा, ‘आप (भाजपा) मैच हार चुके हैं और काडर में जोश भरने के लिए ऐसी चीजें कह रहे हैं।’ मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि ऐसा लगता है कि मानो राज्य में संविधान के अनुच्छेद 356 को लगाने के बाद चुनाव हो रहे हैं और गृह मंत्री ही सबकुछ कर रहे हैं।

बनर्जी ने दावा कि मोदी सरकार किसानों के प्रति शत्रुतापूर्ण रवैया रखती है और कहा कि मेधा पाटकर तथा किसान नेता नंदीग्राम के लोगों से यह कहने आए थे कि वे भाजपा को वोट न दें।बनर्जी ने कहा कि वह नंदीग्राम में जीतने के बाद यह संदेश लेकर दिल्ली के सिंघू बॉर्डर जाएंगी कि इस सीट के लोगों ने किसान आंदोलन का समर्थन किया है।

 

 

 

 

Share