Running करने के फायदे running krne ke fayde

Morning Walk Benefits in Hindi :- खुद को फिट रखने के लिए जो सबसे महत्वपूर्ण है वो है व्यायाम और अच्छा खान पान। अपने सुना ही होगा की गाऊँ के लोग हमेशा फिट रहते है उनका फिट रहने का राज एक तो उनका नियमित पैदल जाना और दूसरा वो हमेशा अच्छा खाना खाते है। पर शहर मे भाग दौड़ की जिंदगी होती तो ये सब नहीं हो पता है मॉर्निंग वॉक करने से क्या फायदा होता है।

सुबह-शाम की नियमित सैर करने से मूड अच्छा रहता है और कही बीमारियों से छुटकारा मिल जाता है इस प्रकार नियमित सैर से बीमारियों पर होने वाला खर्च बच जाता है।

आजकल देखा जाता है कोई प्राणायाम करता है तो कोई दौड़ता है कोई घुमता है तो कोई शीर्षासन करता है आदमी वही करता है जो उसकी रूचि हो, पर सुबह सवेरे टहलना (morning walk) शरीर को स्वस्थ और निरोग रखने के अच्छे व्यायामों में से एक माना जाता है।

Running Benefits in Hindi :- आपको पता ही होगा कि सुबह उठकर दौड़ लगानी चाहिए यह तो हमारे बूढ़े लोग हमेशा बोलते रहते है कि सुबह उठकर दौड़ लगाया करो अगर हम आलसी हो जाते है तो हमारे शरीर में बहुत बीमारी आने लग जाती है और जब हम दौड़ लगाते हैं तो हमारे शरीर में कोई बीमारी नहीं आती क्योंकि दौड़ लगाने के बहुत फायदे होते हैं यदि आप सुबह दौड़ते हैं तो इससे न केवल आप खुद को फिट रख पाते हैं बल्कि बहुत सारी बीमारियों को भी दूर भगा सकते हैं। सुबह उठकर दौड़ने से शरीर से आलस्य ऐसे दूर हो जाता है जैसे कि सूरज के निकलने पर अंधेरा। आइए जानते हैं सुबह सुबह टहलने से क्या फायदा होता है – Subh Dodne ke Fayde

सहनशक्ति

जो लोग रोज सुबह दौड़ लगाते हैं उनकी सहनशक्ति में इजाफा होता है। वह छोटी-छोटी समस्याओं का बहुत ही आसानी से हल निकाल लेते हैं। परिश्रम करने से हमेशा मानसिक स्थिति सही रहती है। सुबह की ठंडी हवा में घूमने से व्यक्ति की मानसिकता पर बहुत गहरा प्रभाव पड़ता है वह मानसिक रूप से बहुत ज्यादा जल्दी ठीक होने लगता है।

वजन कम करना

अगर आपको वजन कम करना है तो आप नियमित एक महीने सुबह साम दौड़ लगाए। इससे न केवल चर्बी कम होगी बल्कि आप पूरी तरह से फिट भी दिखने लग जाओगे। हम तो बोलते है कि हर आदमी को हर दिन एक किलोमीटर पैदल चलना ही चाहये। आजकल तो लोग वजन कम करने के लिए जिम जाते है।

शारीरिक मजबूती

सुबह-सुबह दौड़ लगाने से न केवल हमारा वजन कम होता है बल्कि हमारे शारीर, शारीरिक रूप से मजबूत होता जाता हैं। इससे हमारी हड्डियां भी मजबूत होती हैं क्योंकि सुबह की हवा में बहुत शुद्ध मानी जाती है और इसमें बीमारियों से लड़ने की ताकत होती है। 1970 से पहले 66 प्रतिशत लोग पैदल चलते थे जबकि आज के समय में यह आंकड़ा सिर्फ 13 प्रतिशत है आज लोग पैदल चलने को मजबूरी समझते हैं।

दर्द में राहत

हड्डियों और मांसपेशियों में दर्द होने पर अगर आप दौड़ना या पैदल चलना शुरू कर देते है। तो इससे दर्द में राहत मिलती ही है और शरीर की कार्यप्रणाली दुरुस्त होती है और गतिशीलता आती है। दर्द में राहत के लिए आप घर पर भी व्यायाम कर सकते हो, ये खुद मैंने आजमाया हुआ है जब मेरी कमर की नश चढ़ गयी थी तो वो खाली व्यायाम से ही सही हुआ है।

हृदय रोग

अगर आप हर दिन 40 मिनट की सैर करते है तो ये हृदय रोग के खतरे को भी कम करता है और इसके साथ तनाव, कोलेस्ट्रॉल और ब्लड प्रेशर पर काबू पाने में भी मदद मिलती है। अपने सुना ही होगा की गाओ के लोगो को बीमारी बहुत कम होता है क्युकी वो लोग पैदल चलते है।

ब्रेस्ट कैंसर

कहा जाता है कि प्रतिदिन पैदल चलने वाली महिलाओं को ब्रेस्ट कैंसर के खतरे को 50 प्रतिशत कम हो जाता है। आपको कोशिश करनी चाहिए कि ज्यादा से ज्यादा पैदल चले, इससे कही रोक कट जाते है। साथ ही पैदल जाने से महिलाएं अपना वजन नियंत्रित रख सकती हैं।

उच्च रक्तचाप

जिन लोगो को उच्च रक्तचाप और अस्थमा की वीमारी हैं उन्हें भी सुबह दौड़ना चाहिए। दौड़ने से उनके फेफड़े मजबूत होंगे और श्वसन प्रक्रिया में सुधार होगा। इसके अलावा इससे धमनियों का व्यायाम होगा और रक्तचाप नियंत्रित रहता है।

हाई बल्ड प्रेशर

यदि किसी व्यक्ति को हाई बल्ड प्रेशर की बीमारी है तो उसे रोज सुबह उठकर दौड़ना चाहिए जिससे उस व्यक्ति को बीमारी से छुटकारा मिल जायेगा। यदि आप दौड़ नहीं लगा सकते हो तो रोज पैदल चले।