बनारस की बेटी ने सैफ गेम्‍स में जीता गोल्‍ड,गरीबी से जीती जंग

उत्तर प्रदेश।  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र बनारस की बेटी बरखा सोनकर barkha-sonka ने 13 वें दक्षिण एशियाई गेम्‍स (सैफ) के बास्‍केट बॉल प्रतियोगिता में स्‍वर्ण पदक जीता है। स्‍कूटर मकैनिक भोलानाथ की बेटी बरखा अब तक आठ बार अंतरराष्‍ट्रीय प्रतियोगिताओं में हिस्‍सा ले चुकी हैं।

सैफ गेम्‍स में भाग लेने वाली भारतीय बास्‍केट बॉल टीम में शामिल बरखा की बास्‍केट बॉल में दिलचस्‍पी 13 साल की उम्र से है। चार बहनों में सबसे छोटी बरखा ने यूपी कॉलेज के बास्‍केट बॉल कोर्ट से प्रैक्टिस शुरू की। वर्ष 2009 में पहली बार नैशनल और 2011 में अंतरराष्‍ट्रीय प्रतियोगिता में हिस्‍सा लिया। इसके बाद कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा। 2019 के फीबा (इंटरनेशनल बास्‍केटबाल फेडरेशन एसोसिएशन) के एशियन विमिन चैंपियनशिप में भी उन्‍होंने हिस्‍सा लिया था।

परिवार की आर्थिक स्थिति ठीक न होने के कारण बरखा ने गरीबी से जंग जीतकर अलग मुकाम बनाया है। फिलहाल वह अमेरिका के ह्यूस्‍टन विश्‍वविद्यालय से रीक्रिएशन टूरिज्‍म स्‍पोर्ट्स मैनेजमेंट का कोर्स कर रही हैं। साथ ही विश्‍वविद्यालय की बास्‍केट बॉल टीम की कप्‍तान भी हैं। उनका सपना है कि वह महिला राष्‍ट्रीय बास्‍केट बॉल असोसिएशन अमेरिका के लीग मैचों में हिस्‍सा लें। एजेंसी