जिंदा है अल कायदा प्रमुख अल जवाहिरी,पाकिस्तानी सीमा इलाके में छिेपे होने की आशंका

जिंदा है अल कायदा प्रमुख अल जवाहिरी,पाकिस्तानी सीमा इलाके में छिेपे होने की आशंका

संयुक्त राष्ट्र। दुनिया का सबसे बड़े आतंकी संगठन अल-कायदा का प्रमुख अयमान अल जवाहिरी अभी भी जिंदा है। संयुक्त राष्ट्र की एक ताजा रिपोर्ट के अनुसार,कुख्यात आतंकी जवाहिरी अफगानिस्तान और पाकिस्तान सीमा क्षेत्र में रह रहा है। रिपोर्ट में दावा किया गया है कि वो अभी बहुत कमजोर हालत में है।इस रिपोर्ट में कहा गया है कि बड़ी संख्या में अल-कायदा आतंकी अफगानिस्तान और पाकिस्तान की सीमा पर छिपे हुए हैं। इनमें अल-कायदा का सरगना अयमान अल-जवाहिरी भी शामिल है। जवाहिरी संभवत: जिंदा है,लेकिन इतना कमजोर हो गया है कि प्रचार में नहीं दिखाया जा सकता।उल्लेखनीय है कि पहले भी कई बार खराब स्वास्थ्य के कारण जवाहिरी की मौत की खबरें आई थीं लेकिन उसकी पुष्टि नहीं हो पाई।

रिपोर्ट में कहा गया है कि बड़ी संख्या में अल-कायदा आतंकियों और अन्य विदेशी चरमपंथियों ने तालिबान के साथ गठबंधन कर लिया है और वे अफगानिस्तान के विभिन्न हिस्सों में छिपकर रह रहे हैं।जवाहिरी का नाम अमेरिका की आतंकवादियों की मोस्ट वांटेड लिस्ट में है। उसने 1988 में अल-कायदा की स्थापना करने में ओसामा बिन-लादेन की मदद की थी। लादेन की मौत के बाद वह अल कायदा प्रमुख बन गया।

संयुक्त राष्ट्र ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि लंबी अवधि के लिए आतंकी संगठन की रणनीति यह है कि कुछ समय के लिए अपनी गतिविधियों को बंद रखा जाए। इसके बाद अंतरराष्ट्रीय लक्ष्यों पर हमला किया जाए। यह परिदृश्य तालिबान की ऐसी गतिविधियों से दूर रहने की प्रतिबद्धता के खिलाफ है। इस क्षेत्र में अल-कायदा के कुछ दर्जन से लेकर 500 तक आतंकी हो सकते हैं। इस संगठन के मुख्य सदस्य गैर-अफगानी मूल के हैं। इनमें ज्यादातर आतंकी उत्तरी अफ्रीका और पश्चिम एशिया के हैं। रिपोर्ट के अनुसार,अफगानिस्तान शांति प्रक्रिया पर तालिबान और अल-कायदा के बीच नियमित संवाद होता रहता है।

 

Share