पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए उत्तर प्रदेश व थाईलैंड के बीच होगा करार

पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए उत्तर प्रदेश व थाईलैंड के बीच होगा करार

उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव राजेन्द्र कुमार तिवारी से बुधवार को उनके लोक भवन स्थित कार्यालय कक्ष में थाईलैण्ड की राजदूत पैट्रेट हांगटांग ने शिष्टाचार भेंट की। भेंट के दौरान प्रदेश के विभिन्न पर्यटन स्थलों एवं उनके विकास के सम्बन्ध में विस्तार से विचार-विमर्श किया गया। मुख्य सचिव ने सुश्री पैट्रेट को एक जनपद-एक उत्पाद के कुछ उत्पाद भी भेंट स्वरूप प्रदान किये।

प्रदेश के मुख्य सचिव से थाईलैण्ड की राजदूत पैट्रेट हांगटांग ने शिष्टाचार भेंट की

इस मौके पर थाईलैण्ड की राजदूत सुश्री पैट्रेट हांगटांग ने प्रदेश के ओडीओपी उत्पादों को थाईलैण्ड के कार्यक्रमों में सम्मिलित करने की इच्छा व्यक्त की। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में पर्यटन की असीम संभावनाएं हैं एवं थाईलैण्ड एवं प्रदेश के बीच में पर्यटन व व्यापार को बढ़ावा दिये जाने की दिशा में शीघ्र ही एक एमओयू पर भी हस्ताक्षर किया जायेगा।

दुनियाभर के निवेशकों को आकर्षित कर रहा यूपी

इस अवसर पर अपने सम्बोधन में मुख्य सचिव राजेन्द्र कुमार तिवारी ने कहा कि उत्तर प्रदेश निवेशकों को इन्वेस्टर्स फ्रेन्डली वातावरण प्रदान कर दुनिया भर के निवेशकों को अपनी ओर आकर्षित कर रहा है। उन्होंने ईज ऑफ डुईंग बिजनेस पर चर्चा के दौरान बताया कि उत्तर प्रदेश पूरे भारत में दूसरा स्थान रखता है तथा निवेशकों को सुरक्षित एवं स्वस्थ्य वातावरण प्रदान करता है। उन्होंने यह भी बताया कि गोरखपुर में आयुष विश्वविद्यालय की स्थापना होने जा रही है जो पूर्ण रूप से आयुर्वेदिक पद्धति पर आधारित है।

अधिक से अधिक रोजगार सृजन करने में सहायक

चर्चा के दौरान उन्होंने यह भी बताया कि प्रदेश में खाद्य प्रसंस्करण उद्योग उत्पादन,खपत,निर्यात और विकास संभावना की दृष्टि से अत्यन्त महत्वपूर्ण उद्योग है। खाद्य प्रसंस्करण क्षेत्र ने रोजगार के नये-नये अवसर खोले हैं। मुख्य सचिव ने ओडीओपी उत्पादों की विशेषता पर चर्चा करते हुए बताया कि प्रदेश के समस्त जिलों का अपना एक उत्पाद है जो सम्बन्धित जिले की पहचान बना तथा प्रदेश के जनपदों में पारम्परिक शिल्प एवं लघु उद्यमों का संरक्षण कर अधिक से अधिक रोजगार सृजन करने में सहायक है।उन्होंने भगवान बुद्ध से सम्बन्धित पर्यटन स्थल एवं जनपद अयोध्या के विशेषताओं के बारे में भी चर्चा की। भेंट के दौरान प्रमुख सचिव,संस्कृति मुकेश कुमार मेश्राम,विशेष सचिव उद्योग डॉ. मुथुकुमार स्वामी सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित रहे।

Share