न्यायालय में हिंदी दिवस पर अधिवक्ताओं ने की विचार गोष्ठी

न्यायालय में हिंदी दिवस पर अधिवक्ताओं ने की विचार गोष्ठी

फिरोजाबाद। हिंदी भाषा से भारतीयता झलकती है,”हिंदी है हम,अपनों की भाषा”।14 सितंबर’ यानी मंगलवार को पूरे देशभर में हिंदी दिवस मनाया गया।हिंदी दिवस ने भारत को दुनिया में एक अलग और खास पहचान दिलाई है।साल 1953 से हिंदी दिवस की शुरुआत हुई।हिंदी भाषा विश्व में सबसे ज्यादा बोली जाने वाली तीसरी भाषा है।

हिंदी दिवस के अवसर पर शहर में कई कार्यक्रम आयोजित हुए। इसी कड़ी में मंगलवार दोपहर जनपद न्यायालय के लाइब्रेरी कक्ष में अधिवक्ताओं ने विचार गोष्ठी का आयोजन किया। गोष्ठी में मौजूद वकीलों ने हिंदी के महत्व को बताते हुए अपने अपने विचारों को व्यक्त किया और अधिक से अधिक हिंदी में कार्य करने और बोलने पर जोर दिया। इस दौरान सीनियर जूनियर अधिवक्ताओं ने हिंदी भाषा के कई पहलुओं पर प्रकाश डाला। इस अवसर पर जेपी शर्मा,विजय शर्मा,पंचम सिंह गुर्जर,विमल यादव,विश्राम सिंह राठौर,प्रदीप चौहान,सुरेंद्र कुशवाहा आदि अधिवक्ता मौजूद रहे। कार्यक्रम का संचालन दलबीर सिंह तोमर एडवोकेट ने किया।

 

Share