एक कैंथ के लिए नवयुवक को उतारा मौत के घाट

IMG-20191011-WA0008

 

शैलेन्द्र पांडे/ उत्तर प्रदेश

मूँगरा बादशाहपुर से सटे हरसू का पूरा (इटहरा) क्षेत्र में मामूली विवाद को लेकर बुधवार की दोपहर को हमले में 35 वर्ष के संदीप पांडे  नामक युवक की हत्या कर दी गयी। संदीप अपने पीछे अपनी पत्नी, दो छोटे बच्चे और एक बेसहारा माँ को छोड़ इस दुनिया से चले गये है। उक्त घटना के पश्चात पूरे इलाके में कोहराम मचा हुआ है। शुरुवाती कारवाई में पुलिस ने एक गिरफ्तारी की है और बाकी सभी आरोपियों की तलाश जारी है।

संदीप ग्राम गोरैयाडीह के निवासी है और घर के समीप दौलतिया मंदिर से थोड़ी दूर पर एक चक्की चलाते थे और उसी के पास पुष्तैनी ज़मीन में बाग बगीचे है जो कि कई प्रकार के फलों से भरे हुए है। संदीप चक्की चलाने के साथ साथ बगीचे की भी रखवाली करते थे। जहाँ पर संदीप की चक्की है उसी के पड़ोस में कुछ परिवारो का निवास स्थान है। बुधवार को जब संदीप आटा चक्की चलाने गया था उसी दौरान पड़ोसी परिवार के एक सदस्य को कैंथ तोड़ने से मना कर दिया और इस मामूली सी बात को लेकर पड़ोसी परिवार ने संदीप पर हमला कर दिया और अधमरा करके वहीं छोड़ दिया। संदीप के परिजनों को जब इस बात की खबर लगी तो वो उस स्थान पर पहुँचे पर इसके पहले की वो संदीप को डॉक्टर के हाँथो में सही सलामत सौंपते रास्ते मे ही उसने अपना दम तोड़ दिया।

संदीप अपने पाँच भाइयों और दो बहनों में तीसरे नंबर पर थे और घर पर रहकर अपनी माँ और परिवार की देखरेख करते थे। बाकी सभी भाई मुम्बई में निवास करते है।

नौ के विरुद्ध हत्या का मुकदमा दर्ज

मृत संदीप पांडेय के भाई प्रदीप पांडेय की तहरीर पर पुलिस ने नौ नामजद आरोपितों कल्लू, भुल्लर, बब्बू, अमन, राजू, रीतू, लल्लू, अर्जुन व संगम बिंद निवासी हरसू का पूरा (इटहरा) के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर छानबीन कर रही है।

more recommended stories