आनंदनगर में डायरिया से दो बच्चों की मौत पर जिलाधिकारी का फूटा गुस्सा ,मजिस्ट्रेटी जांच बैठाने व स्टाफनर्स डोरीलाल को तत्काल प्रभाव से निलम्बित करने के दिये निर्देश

IMG_6393

समय भास्कर
फिरोजाबाद । शहर के मोहल्ला आनंद नगर में डायरिया फैलने से दो बच्चों कु0 लक्ष्मी व लक्की की मौत हो जाने की जानकारी मिलने पर जिलाधिकारी चन्द्र विजय सिंह ने गम्भीरता दिखाते हुये नगर आयुक्त, नगर मजिस्ट्रेट, एसडीएम सदर, सीएमएस सहित डाक्टर्स की टीम के साथ मौके पर पहुंचें और मृतकों के परिजनों को सांत्वना दी। उन्होने मोहल्ले के लोगों से बातचीत की और बच्चों के मृत्यु एवं डायरिया फैलने के कारणोें की जानकारी प्राप्त की, तो लोगों ने बताया कि क्षेत्र में दूषित पानी, गलियों मैं गन्दगी व जल भराव होने के कारण एक दर्जन से अधिक लोग डायरिया से पीडित है। जिस पर उन्होने नगर निगम के अधिकारियों को कड़ी फटकार लगाते हुये मौके पर नगर निगम की टीम लगाकर साफ-सफाई, टैंकरों द्वारा क्लोरिन युक्त शु़द्ध जल उपलब्ध कराने की व्यवस्था की। इसके उपरांत जिलाधिकारी सरकारी ट्रामा सेण्टर में भर्ती डायरिया से पीडित बच्चों को देखने पहुचे, उनका हाल चाल जाना व उनके माता पिता से बातचीत की। उन्होने सीएमएस को निर्देश दियें कि बच्चों के ईलाज में किसी प्रकार की लापरवाही नही बरती जायें।

जिलाधिकारी ने कु0 लक्ष्मी व लक्की की मौत को गम्भीरता से लेते हुये मजिस्ट्रेटी जांच बैठाने व रात्रि स्टाफनर्स डोरीलाल को तत्काल प्रभाव से निलम्बित करने के निर्देश दिये। उन्होने ट्रामा सेण्टर में कु0 लक्ष्मी व लक्की को रात्रि 11.30 बजे भर्ती होने के बाद उनका क्या इलाज चला उसकी ट्रीटमेंट फाइल निकलवाकर पूरी जानकारी प्राप्त की और डयूटी में लगे डाक्टर को फटकार लगाई। उन्होने बाल विभाग के सभी वार्डों का निरीक्षण किया और वार्डों में कुछ और बैड़ बढवाने के निर्देश दियें। उन्होने शहर के जहां-जहां से डायरिया पीडित बच्चें भर्ती हुये है, उस क्षेत्र में चिकित्सा टीम भेंजकर ड़ायरिया की रोकथाम के लिए सभी आवश्यक कदम उठाने के निर्देश दिये इसके साथ ही उन्होने मुख्य चिकित्सा अधीक्षक को स्पष्ट निर्देश दिये कि वर्षा के कारण बीमारियां अधिक फैल रही हैं। ईलाज के लिए सभी डाक्टर व नर्स आदि पूरी तरह तैनात किये जायें, किसी को भी अवकाश न दिया जायें। इसके उपरांत जिलाधिकारी ने निर्माणाधीन मेडिकल कालेज का निरीक्षण किया और यूपी निर्माण निगम के प्रोजेक्ट मैनेजर एस पी सिंह को निर्माण कार्य में तेजी लाने के निर्देश दियें। उन्होने लैक्चर हाल में सीलिंग आने पर प्रोजेक्ट मैनेजर को निर्देश दियें कि कार्य में पूरी गुणवत्ता बरती जायें। अन्यथा उनके विरूद्ध शासन को लिख दिया जायेगा।

more recommended stories