पानी के लिए लड़ाई लड़ रहे पूर्व कैबिनेट मंत्री राजा महेंद्र अरिदमन सिंह

Agra water treatment

आगरा में पानी के लिए लड़ाई लड़ रहे पूर्व कैबिनेट मंत्री राजा महेंद्र अरिदमन सिंह ने बारिश की एक-एक बूंद से धरती मां की कोख भरने के लिए बड़ा अभियान शुरू कर दिया है। गंगाजल प्रोजेक्ट की परिकल्पना साकार होने के बाद आगरा के भू-गर्भ जलस्तर में सुधार के लिए आंदोलन रूपी यह अभियान ग्राम रैका ब्लॉक बाह से गत दिवस शुरू हुआ। यहां तालाब खोदकर इस कार्य में जन सहभागिता बढ़ाने के लिए पूर्व मंत्री ने ग्रामीणों को प्रेरित किया और इस आंदोलन को समूचे आगरा में जन सहयोग से चलाने की बात कही। इस दौरान सीडीओ रविंद्र कुमार मादड़ भी साथ थे।

उन्होंने बताया कि आगरा के अधिकांश ब्लॉक डार्क जोन में पहुंच चुके हैं। साल दर साल भू-गर्भ जलस्तर गिरता जा रहा है। आगरा में जल संकट गहराता जा रहा है, इसे जनसहभागिता से दूर किया जा सकता है। इसके लिए आगरा शहर के अलावा देहात के सभी ब्लॉकों के तालाबों को चिन्हित किया गया है। इसमें से अधिकांश तालाब गंदगी से पटे पड़े हैं, कुछ तालाबों में अवैध कब्जा है। पहले चरण में तालाबों की खुदाई की जाएगी, उस क्षेत्र के लोगों के साथ जिला प्रशासन के माध्यम से मनरेगा के तहत इन तालाबों की खुदाई की जाएगी। इस पहल को बाह के ग्राम रैका तालाब की खुदाई कर प्रारंभ किया गया। तालाब के आसपास गौशाला के लिए भी व्यवस्थाएं देखीं। संकल्प लिया गया कि मानसून की बारिश से पहले आगरा में तालाबों की खुदाई पूरी कर ली जाएगी। इन तालाबों में बारिश का पानी भरेगा, इससे भू-गर्भ जलस्तर में सुधार होगा। आंदोलन वृहद रूप देने एवं जन सहभागिता बढ़ाने के लिए हर ब्लॉक में लोगों से संपर्क किया जा रहा है।

more recommended stories