नसबंदी असफल होने पर मिलेंगे 60 हजार रुपये

साजिद खान

आगरा । पुरुष और महिला नसबंदी पर विश्वास कायम रखने के लिए परिवार नियोजन इन्डैमिनिटी योजना को लागू किया गया। अगर नसबंदी असफल होती है तो सरकार की तरफ से दो गुना धनराशि दी जाएगी। अब असफल नसबंदी वालों को 30 हजार के बजाय 60 हजार रुपये दिए जाएंगे।

अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी/ नोडल अधिकारी डा. रचना ने बताया कि नसबंदी अपनाने वाले पुरुष को तीन हजार और महिला को दो हजार रुपये प्रोत्साहन राशि के तौर पर दिए जाते हैं। अभी तक नसबंदी असफल होने पर दंपत्ति को योजना के तहत 30 हजार रुपये का मुआवजा दिया जाता था। शासन से जारी किए नए दिशा-निर्देश के अनुसार,अब इस धनराशि को बढ़ाकर दो गुना कर दिया। अब असफल नसबंदी पर मुआवजे के तौर पर 60 हजार रुपये दिए जाएंगे। धनराशि का 60 प्रतिशत अंश केंद्र और 40 प्रतिशत अंश राज्य सरकार देगी। अप्रैल 2019 के बाद हुई नसबंदी के असफल मामलों को शामिल किया जाएगा।

दीवारों पर पेटिंग कराकर होगा प्रचार-प्रसार
उन्होने बताया हैं कि परिवार नियोजन इन्डैमिनिटी योजना के प्रचार-प्रसार के लिए जिले की सभी स्वास्थ्य इकाईयों में दीवार पेंटिंग कराई जाएगी, जिससे लोगों को जागरूक किया जा सके।
ने बताया कि नसबंदी के बाद अस्पताल या घर में सात दिन के अंदर लाभार्थी की मृत्यु होने पर आश्रित को दो लाख रुपये दिए जाते थे। इसे बढ़ाकर अब चार लाख कर दिया गया है। आठ से 30 दिन के भीतर मौत होने पर 50 हजार के स्थान पर एक लाख रुपये की क्षतिपूर्ति धनराशि दी जाएगी।