पांच हज़ार लोग इस वीरान गांव में रातों-रात गायब हो गए,अभी तक कुछ पता नहीं चल पाया

rajasthan villege

जयपुर– दुनिया के हर कोने में कुछ न कुछ रहस्य और रोमांच से जुड़ी कहानियां होती हैं, जो लोगों को हैरान कर देती हैं। इनमें से कुछ बेहद ही डरावनी भी होती हैं। आज हम आपको भारत के एक ऐसे रहस्यमयी गांव के बारे में बताने जा रहे हैं, जहां से रातों-रात हजारों लोग गायब हो गए थे। यह गांव राजस्थान के जैसलमेर से 18 किलोमीटर दूर है, जिसे कुलधरा गांव के नाम से जाना जाता है।

करीब 200 साल पहले कुलधरा और इसके आसपास के गांव पालीवाल ब्राह्मणों से आबाद हुआ करते थे, लेकिन अब यहां मकानों के नाम पर सिर्फ खंडहर हैं और इंसान तो हैं ही नहीं। इस गांव के वीरान होने के पीछे एक रहस्यमयी कहानी है। कहा जाता है कि यहां के रियासत के दीवान सालेम सिंह की नजर गांव के ही एक पुजारी की बेटी पर पड़ गई थी। वह उसे पाने के लिए बेचैन था।

उसने गांव वालों से कहा कि वो उस लड़की से उसकी शादी करा दें और अगर उन्होंने ऐसा नहीं किया तो वो गांव पर आक्रमण करके उसे तहस-नहस कर देगा। सालेम सिंह की धमकी के बाद पालीवाल ब्राह्मणों के 5000 से ज्यादा परिवारों ने रियासत छोड़ने का फैसला किया और रातों-रात गांव खाली करके चले गए।

अब वो कहां गए-कैसे गए, यह आज तक किसी को पता नहीं चला। कहा जाता है कि पालीवाल ब्राह्मणों ने गांव को छोड़ते समय यह श्राप भी दे दिया कि यह जगह कभी आबाद नहीं होगी। तब से यह गांव वीरान ही पड़ा है। हालांकि यहां कई बार लोगों ने बसने की कोशिश भी की, लेकिन वो नाकाम रहे।एजेंसी

more recommended stories