वातावरण की शुद्धि के लिए नगर में किया गया 21 कुंडीय यज्ञ

वातावरण की शुद्धि के लिए नगर में किया गया 21 कुंडीय यज्ञ

आरएसएस की पर्यावरण संरक्षण गतिविधि ने यज्ञ धूम्र से की वातावरण शुद्धि

फिरोजाबाद।वैश्विक महामारी कोरोना से बचाव के लिए राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ कार्यकर्ताओं ने यज्ञोपैथी के माध्यम से वातावरण शुद्धिकरण का कार्य किया। स्वयंसेवकों ने 21 कुंडीय परिभ्रमण यज्ञ कार्यक्रम आयोजित किया। शहर के कई मंदिरों पर हवन यज्ञ के साथ साथ महानगर के कई हिस्सों में यज्ञ परिभ्रमण भी कराया गया।शुक्रवार को राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के कार्यकर्ताओं ने शहर में कोविड-19 वायरस के खात्मे के लिए भारतीय संस्कृति में प्राचीन काल से चली आ रही यज्ञ चिकित्सा के माध्यम से कोरोना के वायरस को समाप्त करने की कवायद की।

वातावरण में ऑक्सीजन लेवल बढ़ाने में हवन, यज्ञ के दौरान उत्पन्न होने वाले धुएं से काफी मदद मिलती है। इस पर देश-विदेश में कई वैज्ञानिक शोध हुए हैं। जिससे यह बात सत्य प्रमाणित हुई है।
ऑक्सीजन के स्तर को वातावरण में बढ़ाने और कोरोना के सूक्ष्म वायरस की समाप्ति के लिए जलेसर रोड स्थित राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के विभाग कार्यालय चंद्र भवन में औषधीय गुणों वाली हवन सामग्री जिसमें नीम,गिलोय,तुलसी,लौंग एवं देशी गाय के शुद्ध घी से आहुतियां दी गई।


विभाग प्रचारक धर्मेंद्र भारत ने बताया कि  हवन यज्ञ का आध्यात्मिक महत्व के साथ ही प्रत्यक्ष रूप से वैज्ञानिक महत्व भी है कि यह क्रिया हमारे आसपास का वातावरण शुद्ध करती है। हवन में दी आहुति के रूप में समर्पित कि जाने वाली सामग्री के तत्वों के द्वारा निकलने वाले धुएं से हानिकारक जीव जो की हवा में उपस्थित हैं,नष्ट होते हैं।  हवन वातावरण का शुद्धीकरण तो करता ही है वहीं व्यक्ति के अंदर सकारात्मक ऊर्जा का संचार करता है। हिंदू संस्कृति की यह प्राचीन परंपरा है जो वैदिक काल से चली आ रही है।

विदित हो कि जलेसर रोड स्थित संघ कार्यालय पर हवन यज्ञ कार्यक्रम संघ विभाग प्रचारक धर्मेंद्र भारत के नेतृत्व में किया गया। इस अवसर पर उपस्थित सभी दायित्ववान कार्यकर्ता एवं अन्य स्वयंसेवकों ने हवन कुंड में आहुति दी। महामारी से सभी प्राणियों की रक्षा के लिए वैदिक मंत्रों से आहुतियां यज्ञ में अर्पित करते हुए यज्ञ कुंड को चंद्र भवन कार्यालय से  बरफ खाना चौराहा, पुराना डाकखाना चौराहा, सर्कुलर रोड होते हुए नीम चौराहा,घंटाघर,सदर बाजार,सेंट्रल चौराहा से वापस जलेसर रोड संघ कार्यालय तक भ्रमण कराते हुए यज्ञ संपन्न किया गया।

वहीं सुदर्शन नगर में भी परशुराम कॉलोनी मंदिर एवं विभव नगर टंकी वाला पार्क में हवन यज्ञ किया गया| हवन के पश्चात उस हवन कुंड को अपने नगर में परिभ्रमण करते हुए प्रसाद वितरित किया। कोविड-19 से बचाव एवं पर्यावरण को शुद्ध बनाने हेतु इस कार्यक्रम का आयोजन हुआ है। कार्यक्रम में सभी स्वयंसेवकों ने बढ़ चढ़कर भाग लिया।शीतला नगर की भगतसिंह बस्ती में पर्यावरण गतिविधि के द्वारा हवन धूपन क्रिया हनुमानजी मंदिर पर हुई। घरों के अंदर और बाहर गली में वातावरण को शुद्ध करने के लिए अपने अपने घरों के बाहर गाय के गोबर के कंडे,लौंग,कपूर व हवन सामग्री के द्वारा वातावरण शुद्ध किया गया। बस्ती में हवन पूजन किया की गया। इसके अतिरिक्त मधुकर नगर,चंद्रसेन नगर,दीनदयाल नगर,राजेंद्र नगर, केशव नगर,माधव नगर, वीर सावरकर नगर एवं अम्बेडकर नगर आदि क्षेत्रों में भी हुआ।चंद्रनगर महानगर कार्यवाह गौरव ने बताया कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ पर्यावरण गतिविधि द्वारा इस कार्यक्रम का आयोजन शहर में अलग-अलग 21 स्थानों पर किया गया है। वही इसके अतिरिक्त स्वयंसेवकों द्वारा अपने अपने घरों में हवन यज्ञ का आयोजन गया है। जिससे वातावरण शुद्ध हो सके।

इस अवसर पर सह विभाग कार्यवाह बृजेश,महानगर पर्यावरण प्रमुख प्रवीण,नगर कार्यवाह संदीप,जयंती प्रसाद,राजीव,संदीप,कुणाल,ललित,आशीष,सुदर्शन नगर से नगर कार्यवाह प्रेमचंद अग्निहोत्री,सह कार्यवाह नानक चंद्र नगर संघ चालक अनूप,ललित मोहन सक्सेना,नगर पर्यावरण प्रमुख सिद्धार्थ,डॉ.नवनीत शुक्ला,नगर संपर्क प्रमुख अनुराग तिवारी,कुटुंब प्रबोधन प्रमुख संतोष , बिजेंद्र,सरस्वती नगर बस्ती राघवेन्द्र,प्रदीप चौहान एडवोकेट,आदित्य आदि मौजूद थे।

 

Share