किसानों तक पहुंचेगा 1 लाख करोड़ रुपया

किसानों तक पहुंचेगा 1 लाख करोड़ रुपया

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में गुरुवार को हुए कैबिनेट की बैठक में कृषि और स्वास्थ्य क्षेत्रों के लिए कई अहम फैसले लिए गएकेंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा, ‘किसान आंदोलन से जुड़े मित्रों से कहना चाहता हूं कि नए कानून से एपीएमसी खत्म हो जाएंगे ऐसा नहीं होगा।’ इसके साथ ही उन्होंने कहा कि मंडियों को और मज़बूत किया जाएगा।नरेंद्र तोमर ने कहा कि भारत सरकार ने इंफ़्रास्ट्रक्चर फंड के तौर पर एक लाख करोड़ की राशि जारी की थी अब एपीएमसी भी इस फ़ंड का इस्तेमाल कर सकेगी।

मंत्रिमंडल की बैठक में मंडी के जरिए किसानों तक 1 लाख करोड़ रुपया पहुंचाने की योजना तैयार की गई है।केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार मंडियों का सशक्तिकरण करने के लिए प्रतिबद्ध है।इसके साथ ही कोविड से लड़ाई के लिए स्वास्थ्य पैकेज का ऐलान भी केंद्र की ओर से किया गया।

दूसरी ओर, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में स्वास्थ्य क्षेत्र के लिए राहत पैकेज का भी ऐलान किया। उन्होंने कहा, ’15 हजार करोड़ का फंड कोविड शुरू होने के समय दिया गया जिससे कोविड हेल्थ सेन्टर, केअर सेंटर और लैब अपग्रेड हुआ।इसी तरह से कोरोना की दूसरी लहर में जो समस्याएं आईं,वो आगे न हो उससे निपटने के लिए भारत सरकार ने 23, 123 करोड़ रुपए का दूसरा पैकेज जारी किया है।’

 

 

Share