Home Firozabad राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ की जिलाध्यक्ष के साथ SDM सदर की अभद्रता पर...

राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ की जिलाध्यक्ष के साथ SDM सदर की अभद्रता पर भड़के शिक्षक संगठन

 

- Advertisement -

समय भास्कर फिरोजाबाद/

राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ की  जिलाध्यक्ष श्रीमती सोनल शर्मा के साथ SDM सदर द्वारा अमर्यादित शब्दों के प्रयोग का मामला तूल प जा रहा है। SDM सदर के अशोभनीय शब्दों के प्रयोग करने पर  शिक्षक संगठनों ने यूंईआरसी पर एक बैठक आयोजित की जिसमें उन्होंने कहां की अगर SDM द्वारा माफी नहीं मांगी गई तो करेंगे आंदोलन । शैक्षिक संगठनों द्वारा जिलाधिकारी से मामले का संज्ञान लेकर SDM पर कार्रवाई करने की मांग की गई है। इस मामले को लेकर जूनियर हाई स्कूल शिक्षक संघ व राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ ने सयुक्त बैठक आयोजित की  ।

जूनियर हाई स्कूल शिक्षक संघ महामंत्री आनंद श्रोतीय  ने कहा कि कल दिनांक 6/9 /2018 को श्रीमती सोनल शर्मा माननीय उच्च न्यायालय इलाहाबाद के आदेश की प्रति लेकर b l o में 44 शिक्षकों को मुक्त करने संबंधी वार्ता एवं प्रति प्राप्त करानेके लिए उप जिलाधिकारी सदर फ़िरोज़ाबाद  के पास गई थी।  SDM ने कोई बात ना सुनते हुए तू तड़ाक की अशोभनीय भाषा में व्यवहार करना शुरू कर दिया तथा उनसे कहा कि तुझे मैं नौकरी करना सिखा दूंगा तेरे दिमाग खराब हो गए हैं तुझे अभी सस्पेंड कराता हूँ ।

जतिंद्र सिंह एवं आदेश यादव ने कहा कि SDM फ़िरोज़ाबाद द्वारा एक शिक्षिका के साथ जो अशोभनीय व्यवहार किया गया है उसकी जितनी निंदा की जाए वह कम है।  जब तक SDM माफ़ी नहीं मांगते हैं  तब तक शिक्षक चैन से नहीं बैठेंगे।

प्रवक्ता टीकम सिंह एवं अभय सिंह ने कहा कि शिक्षकों के प्रतिनिधि शिक्षिका के साथ जब हद दर्जे की बदतमीजी एक SDM द्वारा की जा सकती है, तो एक आम शिक्षक के साथ क्या व्यवहार किया जाता होगा यह सोचने की बात है । उन्होने कड़े शब्दों में अमर्यादित व्यवहार की निंदा की ।विनीत यादव ने कहा कि ऐसे अधिकारी के  स्थानांतरण की मांग करते हैं अन्यथा शिक्षक बीएलओ ड्यूटी का बहिष्कार करेंगे।

आरएसएन कि नगर अध्यक्ष ताजबर फातिमा एवं प्रीति चौधरी ने कहा कि समाज में महिलाओं की सुरक्षा एवं सम्मान के लिए केंद्र व राज्य सरकार संकल्पित दिखाई देते हैं परंतु स्थानीय अधिकारी महिलाओं के साथ अपमानजनक व्यवहार सरकार की मंशा पर पानी फेर रहे हैं।उन्होंने कहा कि महिलाओं के साथ बदसलूकी करने वाले ऐसे अधिकारियों को चूड़ी भेंट करेंगे।

वही बैठक में उपस्थित अन्य वक्ताओं ने कहा कि ऐसे अधिकारियों को शासन द्वारा तत्काल प्रभाव से निलंबित किया जाए। शिक्षक संगठनों ने कहा कि अगर उनकी बात नहीं मानी गई तो कार्य बहिष्कार एवं तालाबंदी भी की जा सकती है। बैठक में रूपा शर्मा, प्रवीण कुमार शर्मा, अंकित तिवारी, अजब सिंह, कुलदीप सिंह, धर्मेंद्र यादव, श्यामबाबू, अनुराग, मनीष शर्मा, नीलोफर, भानु प्रकाश, मधुबन सिंह, अर्शी अंजुम ,सुधीर सिसोदिया, जितेंद्र सिंह, रिहाना तबस्सुम, सर्वेश्वरदयाल अवनीश कुमार, रुबीना खातून, राजेश्वर, प्रिया, शीशपाल यादव आदि उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

भूख प्यास से बिलख रहे मुस्लिम परिवारों को स्वयंसेवकों ने खिलाया खाना

अर्जुन मिश्रा टूंडला(फिरोजाबाद)। टूंडला -एटा रोड पर श्रीनगर गांव में बरेली जाने के इंतजार में बैठे कुछ मुस्लिम परिवारों के लिए आरएसएस के कार्यकर्ता भगवान...

कोरोना वायरस के कुल 1071 मामले अब तक 29 लोगों की मौत हुई, लोगों ने लॉक डाउन का पालन किया : स्वास्थ्य मंत्रालय

नई दिल्ली। देश में कोरोना वायरस (coronavirus) का प्रक्रोप बढ़ता ही जा रहा है। पिछले 24 घंटे में कोरोना के संक्रमण के 92 नए...

नई व्यवस्था: लेबर कॉलोनी के ग्राउन्ड में लगे सब्जी के ठेलें,लोग पहुँचे खरीददारी करने

फिरोजाबाद। लॉकडाउन के चलते लेबर कॉलोनी के रामलीला मैदान में नई व्यवस्था की शुरूआत की गई। सभी सब्जी के ठेलों को ग्राउन्ड में सोशल...

पुलिस ने कहा, बाहर मत निकलना कोरोना वायरस घूम रहा है

चेन्नई। लोगों को लॉकडाउन (lockdown) के दौरान घर पर ही रहने का संदेश देने के लिए तमिलनाडु (Tamil Nadu) पुलिस (Police) ने एक अलग...

Recent Comments