रामभक्त का एक ऐसा मंदिर है जहां होती है स्त्री रुप में पूजा 

female hanuman ji

छत्तीसगढ़।भारत में राम भक्त हनुमान के बुहत सारे मंदिर हैं। आमतौर पर भगवान बजरंगबली के मंदिरों में महिलाओं का प्रवेश और स्पर्श वर्जित माना जाता है। लेकिन आश्चर्यों से भरपूर हमारे भारत देश में रामभक्त का एक ऐसा मंदिर है जहां उनकी पूजा स्त्री रुप में होती है। यह मंदिर सबसे अलग और खास इसलिए है क्योंकि इस मंदिर में भगवान हनुमान पुरुष नहीं बल्कि स्त्री के रूप में पूजे जाते है

हनुमान जी की नारी प्रतिमा :

हनुमान जी का यह मंदिर छत्तीसगढ़ के रतनपुर गांव में है। यह संसार का इकलौता मंदिर है जहां हनुमान जी की नारी प्रतिमा की पूजा होती है। माना जाता है कि हनुमान जी की यह प्रतिमा दस हजार साल पुरानी है। जो भी भक्त श्रद्धा भाव से इस हनुमान प्रतिमा के दर्शन करते हैंए उनकी सभी मनोकामना पूरी होती है।

प्रचलित कथा :

प्राचीन काल में रतनपुर के एक राजा थे पृथ्वी देवजू। राजा हनुमान जी के भक्त थे। राजा को एक बार कुष्ट रोग हो गया। एक रात हनुमान जी राजा के सपने में आए और मंदिर बनवाने के लिए कहा।

मंदिर निर्माण का काम जब पूरा हो गया तब हनुमान जी फिर से राजा के सपने में आए और अपनी प्रतिमा को महामाया कुण्ड से निकालकर मंदिर में स्थापित करने का आदेश दिया। जब राजा ने महामाया कुंड में भगवान हनुमान की प्रतिमा देखी तो वह नारी रूप में थी। राजा ने भगवान के आदेश के अनुसार भगवान हनुमान की उसी नारी रूपी प्रतिमा की स्थापना कर दी। एजेंसी

more recommended stories