भाजपा को राजनीति का स्तर गिराने के लिए माफी मांगनी चाहिए : मनु सिंघवी

0

नई दिल्ली । देश की राजनीति में इन दिनों भाजपा और कांग्रेस के बीच आरोप-प्रत्यारोप का दौर जारी है। यूथ युवक कांग्रेस ‘युवा देश’ पत्रिका ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का मजाक उड़ाते हुए एक ट्वीट किया था, जिस पर आपत्ति जताई गई थी। उस ट्वीट का जवाब देते हुए परेश रावल ने लिखा था कि हमारा चाय वाला किसी बार बाला से बेहतर है। कांग्रेस प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा नेताओं पर लगातार मर्यादा लांघने का आरोप लगाते हुए कहा कि उन्हें राजनीति का स्तर गिराने के लिए माफी मांगनी चाहिए।

यह भी पढ़ें  प्रद्युम्न मर्डर केस : कंडक्टर अशोक बोला जीते जी नरक भोग लिया

कांग्रेस ने कहा कहा कि युवा देश पत्रिका में मोदी पर केंद्रित एक कार्टून प्रकाशित होने के बाद परेश रावल की टिप्पणी सामान्य राजनीतिक मर्यादाओं का उल्लंघन है। बाद में परेश ने इस टिप्पणी को डिलीट कर लोगों से माफी मांगी थी। कांग्रेस प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा मोदी और भाजपा की मूर्खतापूर्ण, असंवेदनशील और अपमानजनक टिप्पणी करने के बाद उससे सरासर मुकर जाने की आदत बन गई है। भाजपा के किसी छोटे कार्यकर्ता ने भी अवांछित टिप्पणियों के लिए कभी माफी नहीं मांगी है।

मनु सिंघवी ने कहा चाहे यह उनके राजनीतिक विरोधी हों, या कोई दूसरा समुदाय, महिलाएं हों या दलित भाजपा ने सभी को निशाना बनाया है। सिंघवी ने सवाल किया उन्होंने कहा मोदी ने ग्रेस को निशाना बनाया और उसकी तुलना दीमक से की। उन्होंने कांग्रेस के चुनाव चिह्न को खूनी पंजा कहा। क्या मोदी ने माफी मांगी, जब उन्होंने पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को रात का चौकीदार कहा था?

यह भी पढ़ें  सुशील मोदी को घर में घुसकर मारेंगे : तेज प्रताप

मनु सिंघवी ने सवाल किया क्या उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को जर्सी गाय और उपाध्यक्ष राहुल गांधी को जर्सी बछड़ा कहने के लिए माफी मांगी? सिंघवी ने फिर सवाल किया क्या मोदी ने अपने उस कथ्य पर खेद जताया, जिसमें उन्होंने कहा था कि उन्होंने 20 लोगों से पूछा और सभी ने कहा कि वे सोनिया जी को क्लर्क की नौकरी भी नहीं देना चाहेंगे। क्या उन्होंने मनमोहन सिंह पर अपने रेनकोट वाली टिप्पणी के लिए माफी मांगी या पत्रकारों को बाजारू कहने के लिए माफी मांगी?

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here