बंद हुए रोज़गार को लेकर रंगमंच के कलाकारों का आंदोलन

बंद हुए रोज़गार को लेकर रंगमंच के कलाकारों का आंदोलन

पंकज दुबे/ मीरा-भायंदर

कोरोना महामारी के साथ-साथ , अब रंगमंच के कलाकारों के लिए भुखमरी के हालात बनते जा रहै है, विगत कई दिनों से सिनेमा और नाट्य रंगमंच बंद है। इसी बंद के विरोध में आज सिनेमा और नाट्य रंगमंच के कलाकारों ने मीरा- भायंदर के गोल्डन नेस्ट में आंदोलन किया। इस आंदोलन को निर्भय भारत सामाजिक संगठना के सांस्कृतिक विभाग का समर्थन मिला।

नाट्य कलाकार समृद्धि कारेकर ने कहा की यह आंदोलन नहीं सरकार से हमारी गुहार है की, सिनेमा और नाट्य रंगमंच, से सभी पाबंदियाँ हटा दे।

सामाजिक संगठना के अध्यक्ष अंकुश मालूसरे में कहा की इन सभी रंगमंच के कलाकारों की माँग पूरी होनी चाहिए, साथ की इन सभी कलाकारो का पंजीकरण होना चाहिए, जिससे इनको हाल में महाराष्ट्र सरकार द्वारा दिए गए अनुदान का लाभ मिल सके। इसी संदर्भ में उन्होंने वरिष्ट पुलिस निरीक्षक मिलिंद देसाई और तहदिलदार को पत्र दिया

उक्त अवसर पर राकांपा प्रवक्ता प्रेम यादव सहित, रोहित गुप्ता , समृद्धि कारेकर , एलेक्स पिल्लई, सचिन जावळे, अशोक गेहलोत , राकेश गेहलोत , प्रगति तुरेकर, रविंद्र अल्हाट , मनीष सोलंकी , वासु पाटिल, कौस्तुभ कारेकर, अमर थोरात, चंद्रकांत करजावकर , राजीव , संदीप येल्वे , प्रकाश चौहान, राजेश तिवारी, आशीष मिस्त्री, भरत रामजी सोलंकी, सिंगर देवा, सूर्यकांत चव्हाण, अरुण सोलंकी, हिरन डोबरिया, दिगंबर पांचाल एवं अन्य रंगमंच कलाकार उपस्थित थे ।

Share