चंबल में बढ़ रहा तेंदुआ का कुनबा,ग्रामीणों में दहशत

पिनाहट (आगरा)। चंबल के तटवर्ती गांवों में तेंदुआ की दहशत हैं। इन गावों में लगातार तेंदुआ देखा गया हैं। बीती रात भी शौच के लिए गए एक युवक ने पढ़ूंआपुरा गांव के पास दो नवजातों के साथ एक तेंदुआ देखा। जिससे समूचे गांव में दहशत फैल गई।

सूत्रों की मानें तो चंबल में कुछ वर्षों से तीन तेंदूओं की गांव में सक्रियता नजर आ रही थी। जिनमें से दो तेंदूए हादसे का शिकार हो गए। कुछ महीने पहले खेड़ा राठौर सहित अलग स्थानों पर दो तेंदूओ के शव मिले थे। अब पडुअपुरा में भी शौच के लिए गए करन सिंह द्वारा दो नवजात बच्चों के साथ एक तेंदुआ दिखाई दिया था। उसके बाद से क्षेत्र में दहशत फैल गई हैं। ग्रामीणों द्वारा वन विभाग को इसकी सूचना दी गई। चंबल में बढ़ रहे तेंदूओं के कुनबे से ग्रामीण दहशत में हैं। ग्रामीणों की मांग हैं कि तेंदूओं को पकडक़र लायन सफारी भेजा जाए जिससे ग्रामीण सुरक्षित रह सकें। पूर्व में भी करकौली के प्राचीन महादेव आश्रम पर तेंदुओं ने हमला किया गया था। ऐसे में ग्रामीण वन विभाग से इन तेंदुओं को पकड़वाने की मांग कर रहे हैं।