इंसाफ की आस में दर-दर की ठोकर खाती महिला

आगरा .सरकार की लाख कोशिस के बाद भी इंसाफ की आस में दर-दर की ठोकर खाती महिला आगरा में एक नया मामला सामने आया है जहां इंसाफ के लिए महिला दर दर की ठोकर खा रही है मामला न्यायालय में विचाराधीन होने के कारण पुलिस भी कुछ नहीं कर पा रही है 6 वर्ष से न्यायालय में मामला चल रहा है. लड़की को उसके पति ने 6 वर्ष पहले छोड़ दिया है महिला अपनी दो छोटी पुत्रियों के साथ दर-दर की ठोकरें खा रही है महिला का कहना है कि उसके ससुराल जनों ने बेटी पैदा होने पर उसे घर से निकाल दिया वह उसका पति उसे छोड़कर किसी और महिला के साथ रहने लगा हाल ही में कुछ दिनों पहले उसकी सास ने उसके पति की शादी किसी दूसरी महिला से करा दी है 

जो कि उसकी रिश्ते में मामा की लड़की लगती थी पीड़िता का कहना है कि उसका पति उसे फोन करके धमकी देता है मेरी लखनऊ तक पहुंच है बड़े बड़े अधिकारी और नेता लोग मेरे साथ हैं मेरा कुछ नहीं कर पाओगी. वहीं अगर सांस से बात करी जाती है तो वह यह कह कर अपना पल्ला झाड़ देती है उस लड़के से हमारा कोई संबंध नहीं है जबकि लड़के के निकाह में सूत्रों के हवाले से पता लगा है कि उसके बड़े भाई ने ही गवाह में हस्ताक्षर किए थे निकाह के टाइम पर साथ ही कुछ दिन पहले पीड़िता की सास के द्वारा अपने फेसबुक अकाउंट से एक फोटो साझा किया गया था जिसमें उसका बेटा यासिर व नई पत्नी दोनों फोटो में साथ है यदि उसकी सास का उसके लड़के से संबंध नहीं है तो उसने फेसबुक पर अपनी नई बहू व लड़के का फोटो क्यों साझा किया पीड़िता आर्थिक रूप से कमजोर होने के कारण कुछ नहीं कर पा रही है दर-दर की ठोकर खाने को मजबूर है.

more recommended stories