राजनीतिक दलों को मिलने वाले चंदे का हिसाब किताब भी हो सार्वजनिक : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी

  Last Updated : Mon, 19,Dec, 2016
राजनीतिक दलों को मिलने वाले चंदे का हिसाब किताब भी हो सार्वजनिक : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी

 

कानपुर। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने राजनीतिक दलों को मिलने वाले चंदे का हिसाब किताब सार्वजनिक किये जाने पर जोर देते हुये आज कहा कि इस कदम से देश में व्याप्त भ्रष्टाचार और कालेधन के खिलाफ मुहिम को और तेज करने में मदद मिलेगी। मोदी ने आज यहां परिवर्तन रैली को संबोधित करते हुये कहा कि चंदे का ब्योरा उजागर करने संबंधी चुनाव आयोग की पहल स्वागत योग्य है।

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) आयाेग के इस कदम का अभिनंदन करती है। चुनाव आयोग की इस कदम को मूर्तरूप देने में उनकी सरकार भरपूर मदद करेगी। प्रधानमंत्री ने कहा कि संसद में सर्वदलीय बैठक में उन्होने कहा था कि देश ईमानदारी की ओर बढना चाहता है। राजनीतिक दलों की भी जिम्मेदारी है कि जनता को इस बाबत विश्वास दिलायें। संसद में खुलकर चर्चा करें। राजनीतिक दलों को चंदा कैसे मिले, इस पर बहस हो। जनता की आकांक्षाओं को देखते हुये सदन में इस पर चर्चा करा कर रास्ता निकालें। उन्होने कहा कि राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने भी चुनाव पर अनाप-शनाप खर्च को कम करने की अपील की थी। मुखर्जी ने कहा था कि लोकसभा और विधानसभा के चुनाव अलग अलग होने से बोझ पडता है। कालेधन का प्रभाव बढता है। वह भी मुखर्जी की तरह चाहते हैं कि आयेदिन होने वाले चुनाव बंद हों। राज्य विधानसभाओं और लोकसभा का चुनाव साथ साथ हो। एजेंसी





विनिमय दर