घर, कार लेना हुआ अब आसान, एसबीआई ने ब्याज दरों में की कटौती

समय भास्कर मुंबई । स्टेट बैंक ऑफ  इंडिया  ने  अपने ब्याज दरों में कटौती करते हुये  गृह ऋण और वाहन ऋण में 05 बीपीएस की कटौती की है। ये सुविधा ग्राहकों को एक नवंबर से लागू होगी ।  बैंक ने अपने गृह ऋण की ब्याज दर को 05 आधार अंक से घटाकर 8.30 प्रतिशत प्रतिवर्ष कर दिया है। इसी तरह, ऑटो लोन पर अब प्रति वर्ष 8.70 प्रतिशत की प्रारंभिक ब्याज दर पर की कर दी गई है जबकि अभी तक यह 8.75 प्रतिशत थी। इस कटौती के साथ, एसबीआई की होम लोन की पेशकश बाजार में सबसे कम हो गई है। नई दरें 1 नवंबर, 2017 से प्रभावी हो गई हैं।

यह भी पढ़ें भारतीय स्टेट बैंक ने छत सौर ऊर्जा परियोजनाओं  के लिए 2,317 करोड़ किए मंजूर

दरों में कटौती के बारे में जानकारी देते हुए एसबीआई के एमडी-रिटेल एंड डिजिटल बैंकिंग श्री पी के गुप्ता ने कहा, ‘उपभोक्ताओं को लाभ पहुंचाने के मामले में स्टेट बैंक ऑफ  इंडिया हमेशा अग्रणी रहा है। दरों में इस नई कटौती के बाद अब खुदरा ऋणों के ज्यादातर मामलों में हमारी दरें सबसे कम हो गई हैं। दरों में कटौती और बैंक के व्यापक डिस्ट्रीब्यूशन नेटवर्क तथा डिजिटल टैक्नोलाॅजी के व्यापक इस्तेमाल से रिटेल कर्ज चाहने वाले ग्राहकों को अब और सुविधा हो जाएगी।‘

30 लाख रुपए तक का कर्ज लेने वाले सभी योग्य वेतनभोगी ग्राहकों के लिए प्रभावी ब्याज दर अब 8.30 प्रतिशत वार्षिक हो जाएगी। सभी वर्गों में दरों में 5 बीपीएस प्वाइंट की कटौती की गई है। 8.30 प्रतिशत ब्याज दर के साथ-साथ गृह ऋण लेने वाले ग्राहक प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत 2.67 लाख रुपए की सब्सिडी का लाभ भी उठा सकेंगे।

कार ऋण लेने वाले ग्राहकों के लिए ब्याज दर वार्षिक 8.70 प्रतिशत से 9.20 प्रतिशत रहेगी, जबकि अब तक यह दर वार्षिक 8.75 प्रतिशत से 9.25 प्रतिशत तक थी। ब्याज की सटीक दर ऋण की राशि और ग्राहक के क्रेडिट स्कोर पर निर्भर करेगी।

यह भी पढ़ें भारतीय स्टेट बैंक ने छत सौर ऊर्जा परियोजनाओं  के लिए 2,317 करोड़ किए मंजूर

more recommended stories