भारतीय स्टेट बैंक ने क्वीन्स मैरी  टेक्निकल इंस्टीट्यूट को दिव्यांग सैनिकों के लिए  दिये 1.20 करोड़

समय भास्कर मुंबई । स्टेट बैंक आफ इण्डिया (एसबीआई) ने क्वीन्स मैरी  टेक्निकल इंस्टीट्यूट (क्यूएमटीआई) को 1.20 करोड़ रुपए की राशि प्रदान की है। क्यूएमटीआई इस राशि का उपयोग क्यूएमटीआई में प्रशिक्षण पा रहे दिव्यांग सैनिकों के लिए वर्तमान संरचना को अपग्रेड करेगा तथा एक माडिफाइड  बस खरीदेगा।

यह भी पढ़ें :- एसबीआई  से लेना है लोन तो बैंलेंस शीट नहीं बैंक स्टेटमेंट करना होगा मजबूत

क्यूएमटीआई एक ट्रस्ट है जो भारतीय सेना संस्थापन से जुड़ा है तथा दिव्यांग हो चुके सैनिकों को उनके सम्मानित पुनर्वास के लिए व्यावहारिक प्रशिक्षण देने के कार्य में संलग्न है। इस संदर्भ में, एसबीआई के स्थानीय प्रमुख(एलएचओ) और भारतीय सेना के बीच एक समझौता पत्र (एमओयू) पर 1 नवम्बर, 2017 को एसबीआई एलएचओ मुम्बई में इस राशि के अंतिम उपयोग को सुनिश्चित करने के लिए हस्ताक्षर हुए।

एमओयू पर ब्रिगेडियर अनिल हूडा, उप महानिदेशक (कल्याण) भारतीय सेना और श्री प्लाबन मोहन्ता, डीजीएम बीएण्डओ, एसबीआई पुणे ने एसबीआई एलएचओ मुम्बई के सीजीएम श्री दीपांकर बोस तथा एसबीआई, क्यूएमटीआई तथा भारतीय सेना के अधिकारियों की मौजूदगी में हस्ताक्षर किए । श्री दीपांकर बोस ने एमओयू की हस्ताक्षरित प्रतिलिपि ब्रिगेडियर अनिल हूडा को सौंपी।

इस हस्ताक्षर समारोह में मिस रश्मि, जीएम एनडब्ल्यू-फोर, एसबीआई, श्री देवेन्द्र कुमार जीएम एनडब्ल्यू फाइव, एसबीआई, मिस सलोनी नारायण, जीएम एनडब्ल्यू सेकेण्ड, एसबीआई, श्री पवन कुमार केडिया, जीएम एनडब्ल्यू थर्ड, एसबीआई, श्री राजेश कुमार मिश्रा जीएम एनडब्ल्यू फस्र्ट, एसबीआई, श्री शिबाशिष मल्लिक, डीजीएम एण्ड सीआईआर डीओ, एसबीआई, लेफ्टिनेंट जनरल पी एस भल्ला, डिफेन्स बैंकिंग एडवाइजर आर्मी, एसबीआई, ब्रिगेडियर के. सतीश (सेनि) डिफेन्स बैंकिंग एडवाइजर, एसबीआई और कर्नल देवेन्द्र गुप्ता (सेनि), निदेशक क्यूएमटीआई पुणे भी उपस्थित थे।

यह भी पढ़ें :- भारतीय स्टेट बैंक ने छत सौर ऊर्जा परियोजनाओं  के लिए 2,317 करोड़ किए मंजूर

more recommended stories