वैतनिक कर्मचारियों के लिए कोटक महिन्द्रा बैंक और ज़ीटा ने लांच किया ’पेमिंट’

समय भास्कर / मुंबई । कोटक महिन्द्रा बैंक और ज़ीटा ने मिलकर ’पेमिंट’ को लांच किया है जो मल्टी-वालेट डिजिटल प्रिपेड साल्यूशंस प्लैटफार्म- पेमिंट कंपनियों को यह सुविधा देता है कि वे अपने कर्मचारियों को विविध लाभ प्रदान कर सकें जैसे भोजन के वाउचर, चिकित्सा व्यय, छुट्टियों-यात्राओं के भत्ते, गिफ्ट कार्ड, आवागमन व्यय, ईंधन भत्ता, ड्राइवर की तनख्वाह इत्यादि। इससे कर्मचारियों को अधिकतम कर लाभ हासिल हो पाएंगे और दावों के निपटान की प्रक्रिया अधिक सक्षम हो सकेगी।

पेमिंट कंपनियों को ज़ीटा से सशक्त एकल डिजिटल इंटरफेस मुहैया कराता है, जिससे कर्मचारियों को दिए जाने वाले विभिन्न भत्तों और खर्चों की अदायगी का प्रबंधन किया जा सके। पेमिंट प्लैटफाॅर्म द्वारा दिए जाने वाले फायदों को कर्मचारी निम्न के जरिए प्राप्त कर सकते हैं।
यह ऐप यूज़र्स को इस काबिल बनाता है कि वे इसके जरिए कई काम कर सकें जैसे- भुगतान, निजी वाॅलेट का

जहां एक तरफ पेमिंट से कर्मचारियों को बहुत सुविधा मिलेगी वहीं दूसरी ओर कंपनियों को भी काफी सुविधा होगी, क्योंकि सारा काम डिजिटल हो जाएगा। नियामकीय जरूरतों के मुताबिक कर्मचारी विभिन्न पेमिंट वालेटों में रकम प्राप्त करते हैं और बिना झंझट के आनलाइन खर्चों का दावा कर सकते हैं, बिना किसी कागज़ी कार्यवाही के। ऐप या आनलाइन प्लैटफार्म का इस्तेमाल करते हुए वे वालेट को क्रैडिट भी कर सकते हैं।

पेमिंट समय, लागत व संसाधनों पर बहुत सी बचत का गारंटी देता है। यह समाधान ये सुनिश्चित करता है कि कंपनियों को न तो पेपर बिल एकत्रित व संभालने पड़ें और न ही उन्हें मैनुअली उनकी जांच करनी पड़े। सारा सत्यापन ज़ीटा की सपोर्ट टीम द्वारा किया जाएगा और सभी दावों को सात वर्षों तक डिजिटली स्टोर किया जाएगा, जो कि ज़ीटा की डिजिटल डाॅक्यूमेंट ड्राइव पर सुरक्षित रहेंगे, और इस तरह आयकर आडिट आराम से हो सकेगा।

more recommended stories