देवरिया महिला आश्रय गृह की घटना शर्मनाक : बब्बर

संवाददाता
लखनऊ। जनपद देवरिया के महिला आश्रय गृह में हुई घटना बहुत ही शर्मनाक और घिनौनी घटना है। यह कैसा शासन-प्रशासन है कि एक संस्था जिसका लाइसेंस रद्द हो चुका है बच्चियों को पालने का कार्य आखिर किसके संरक्षण पर हो रहा है, किसकी अनुमति से चल रहा है।

क्या मुख्यमंत्री जो कह रहे हैं ठोस कार्यवाही की जायेगी, क्या अभी तक जानबूझकर लचर कार्यवाहियां की हैं जो अब ठोस कार्यवाही करने की बात कर रहे हैं। पिछली तमाम कार्यवाहियों का अब तक कोई परिणाम नहीं निकला है। अब एक और ठोस कार्यवाही की बात कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि जो भी प्रशासनिक अधिकारी और जो भी राजनीतिक व्यक्ति हैं, जिनके संरक्षण में यह हो रहा हैए पला है, उन्हें कठोर सजा मिलनी चाहिए।

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष राजबब्बर ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी बार-बार कहते हैं कि बेटी पढ़ाओ-बेटी बचाओ कहीं यह जुमला तो नही। देश में जहां-जहां भाजपा की सरकार है बच्चियों और महिलाओं के साथ रेप की घटनाएं बेतहाशा हो रही हैं।

बब्बर ने कहा कि जुमलों को बेचकर बच्चियों और महिलाओं की सुरक्षा नहीं कर सकते हैं। इस तरह की घटनाएं बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान की पोल खोल रही हैं।

more recommended stories