जम्मू कश्मीर में 370 हटाना विनाशकारी साबित होगा : महबूबा मुफ्ती

जम्मू । जम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने कहा कि जम्मू कश्मीर से विशेष राज्य का दर्जा छीनना पूरे देश के लिए विनाशकारी साबित होगा। महबूबा का यह बयान उस समय आया है, जब सर्वोच्च न्यायालय संविधान के अनुच्छेद 35ए की वैधानिकता पर सुनवाई कर रहा है। यह अनुच्छेद पैतृक सपंति में राज्य की उन महिलाओं के अधिकार को भी खत्म करता है जो दूसरे राज्य में शादी करती हैं।

अनुच्छेद 35ए को लेकर छह अगस्त को सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई होनी है। महबूबा ने दो ट्वीट के जरिए अपनी बात रखी। पहले ट्वीट में उन्होंने लिखा, विशेष राज्य के दर्जे को लेकर मेरे पिता को बहुत गर्व महसूस हुआ, जो जम्मू-कश्मीर को अनुच्छेद 370 के अंतर्गत मिलता है।

वह अक्सर कहा करते थे कि राज्य के लोगों ने बड़े लक्ष्यों को पाने के लिए महान त्याग किए, इसलिए हमारे पास जो है, उसे सुरक्षित रखे जाने की जरूरत है। एक अन्य ट्वीट में महबूबा ने लिखा, आज पार्टी लाइन और अन्य मुद्दों से अलग बात करने वाले 35ए को कमजोर करने के खिलाफ एकजुट हो रहे हैं।

महबूबा ने कहा जैसा कि मैं पहले ही कह चुकी हूं, जम्मू-कश्मीर के विशेष राज्य के दर्जे को कमजोर करना पूरे देश के लिए विनाशकारी साबित होगा। उल्लेखनीय है कि 1954 में राष्ट्रपति के आदेश पर संविधान में अनुच्छेद 35ए जोड़ा गया था

यह अनुच्छेद पैतृक सपंति में राज्य की उन महिलाओं के अधिकार को भी खत्म करता है जो दूसरे राज्य में शादी करती हैं। बता दें कि पिछले कुछ दिनों से घाटी में अनुच्छेद 35ए को रद्द करने की मांग करने वाली याचिका का विरोध हो रहा है। एजेंसी

Loading...

more recommended stories