सांकेतिक प्रदर्शन कर शिक्षकों ने सौंपा डीआईओएस को ज्ञापन

संवाददाता
लखनऊ। जिलाधिकारी, लखनऊ कौशल राज शर्मा द्वारा 23 जून को दिए गए आदेशों के बावजूद जनपद लखनऊ में संचालित अमान्य विद्यालयों एवं अमान्य कक्षाओं का संचालन करने वाले विद्यालयों तथा इन अमान्य विद्यालयों के छात्रों का कक्षा नौ एवं 11 में पंजीकरण एवं कक्षा10 एवं 12के छात्रों का बोर्ड परीक्षा फार्म भरवाने वाले मान्यता प्राप्त विद्यालयों के विरुद्ध दण्डात्मक कार्यवाही के साथ ही अमान्य विद्यालयों के छात्रों का कम छात्र संख्या वाले सहायता प्राप्त एवं राजकीय विद्यालयों में समायोजन की मांग को लेकर आज जिला संगठन के पदाधिकारियों एवं सक्रिय कार्यकर्ताओं ने जिला विद्यालय निरीक्षक कार्यालय पर  सांकेतिक विरोध प्रदर्शन कर जिला विद्यालय निरीक्षक डा. मुकेश कुमार सिंह को ज्ञापन सौपा। ज्ञापन प्राप्त करने के पश्चात जिला विद्यालय निरीक्षक डा. सिंह ने कहा कि मेरे स्तर से हर सम्भव प्रभावी कार्यवाही की जाएगीं।
माध्यमिक शिक्षक संघ के प्रदेशीय मंत्री एवं जिला संरक्षक डा. आरपी मिश्र, जिलाध्यक्ष अनुराग मिश्र एवं जिलामंत्री डा. आरके त्रिवेदी ने बताया  कि आज जिला विद्यालय निरीक्षक को प्रेषित ज्ञापन में 185 संदिग्ध/आरोपी अमान्य विद्यालयों के नाम सम्मिलित हैं। सूची में सभी श्रेणी के अमान्य विद्यालयों के नाम सम्मिलित हैं। जिसमें बिना मान्यता, प्राइमरी की मान्यता किन्तु हाई स्कूल तथा इण्टर की कक्षाओं का संचालन, जूनियर हाई स्कूल की मान्यता किन्तु हाई स्कूल तथा इण्टर कक्षाओं का संचालन, हाई स्कूल की मान्यता किन्तु इण्टर कक्षाओं का संचालन, एक विद्यालय की मान्यता किन्तु एक या अधिक विद्यालय शाखाओं का संचालन आदि सम्मिलित है। जिलाध्यक्ष अनुराग मिश्र एवं मंत्री डा. आरके त्रिवेदी ने बताया कि कल जिला संगठन का प्रतिनिधि मण्डल जिलाधिकारी, लखनऊ से मिल कर कार्यवाही की मांग करेगा।
Loading...

more recommended stories