योगी सरकार में वैकल्पिक शिक्षा आचार्य-मदरसा अनुदेशक को जगी आस

संवाददाता
लखनऊ। यूपी में सबका साथ सबका विकास के सिद्धान्तों को लेकर चल रही योगी सरकार से सूबे के वैकल्पिक शिक्षा आचार्य-मदरसा अनुदेशक एसोसियेशन को प्रशिक्षण मिलने के साथ-साथ नौकरी पाने की आस जगी है। वैकल्पिक शिक्षा आचार्य-मदरसा अनुदेशक एसोसियेशन उत्तर प्रदेश की वरिष्ठ पदाधिकारी नसिमा ने बताया कि एससीईआरटी के निदेशक सर्वेन्द्र विक्रम बहादुर सिंह की ओर से की ओर से बीते पांच अप्रैल को वैकल्पिक आचार्य/ मदरसा अनुदेशकों को विशिष्ट बीटीसी-बीटीसी प्रशिक्षण दिलाने के बावत आये प्रार्थना पत्रों को शीघ्र ही निस्तारित करवाये जाने के संबंध में शिक्षा विभाग-14 के अनु सचिव को पत्रांक संख्या 175 के जरिए प्रस्ताव भेजकर सर्वोच्च प्राथमिकता के आधार पर शासन को तथ्यात्मक आख्या उपलब्ध कराने के निर्देश दिए थे। जिस पर विभागीय अधिकारियों ने सहानुभूतिपूर्वक विचार करते हुए हाईस्कूल व इन्टरमीडिएट वैकल्पिक मदरसा अनुदेशकों को प्रेरक पद पर चयन करने की कार्यवाही की जाने दूसरा प्रशिक्षित स्नातक वैकल्पिक शिक्षा आचार्य/मदरसा अनुदेशकों को विशिष्ट बीटीसी /बीटीसी प्रशिक्षण कराने व आयु में छूट दिए जाने पर सहमति बनी है। एसोसियेशन की नसिमा ने बताया कि अब सारा मामला शासन के पाले में है।

Loading...

more recommended stories