टूटते बालों से हैं परेशान हैं तो,ये पढें

CC236P Dark-haired woman being sad, because of having problems with hair loss

आए दिन अधिकतर लोग बाल झडऩे की समस्या से दो चार होते हैं. बाल झडऩे के भी कई कारण होते हैं और ये जब भी शुरू होता है हर किसी की टेंशन बढ़ जाती है. हर किसी को अपने बालों की चिंता जरूर सताती है लेकिन साथ ही इससे निजात पाने के कई उपाय भी होते हैं. कई बार ये घरेलू उपचार से या खुद ही ठीक हो जाते हैं तो कई बार यह चिकित्सीय समस्या बन जाती है. इसके कई तरह के इलाज होते हैं लेकिन आपको पहले अपने डॉक्टर या इस क्षेत्र से जुड़े प्रोफेशनल की सलाह ले सकते हैं.इसके अलावा हम यहां बाल टूटने से रोकने के लिए सात बेहतरीन उपाय भी बता रहे हैं जिसे आप अपना सकते हैं.

पहले करें फोकस
अपने बालों की समस्या से छुटकारा पाने के लिए पहले आपको परिस्थिति को समझना जरूरी है. अगर डॉक्टर को बाल झडऩे का मुख्य कारण का पता चल चुका है तो सही तरीके से इलाज शुरु की जा सकती है.क्या तनाव की वजह से आपका बाल टूट रहा है या इसके पीछे कोई जेनेटिक कारण है.हालांकि टेस्ट या पूछताछ से सही कारण का पता चल सकता है.

प्रोपेसिया है बेस्ट टैबलेट
प्रोपेसिया पुरुषों में गंजेपन के इलाज के लिए सबसे सफल टैबलेट मानी जाती है. यह असल में टेस्टोस्टेरॉन को डिहाइड्रोटेस्टोस्टिरोन में बदल देती है जिसकी वजह से पुरुषों में बाल झडऩा कम हो जाता है. ये दवा बालों का झडऩा जल्दी रोकती है लेकिन साथ ही इसके कुछ साइड इफेक्ट भी होते हैं. इस टैबलेट को लेने से पुरुषों में प्रोस्टेट कैंसर, स्पर्म काउंट कम होना या नपुंसकता की समस्या भी आ सकती है.

विग से नहीं घबराएं
जब कोई भी विकल्प आपके बालों का टूटना ना रोक पाए तो आप विग का भी इस्तेमाल कर सकते हैं. इसके पहले की बाजार में विग देखकर आप निराश हो जाएं आपको बता दें कि कई विग मानव बालों के भी बनाए जाते हैं जो दिखने में बिल्कुल प्राकृतिक लगते हैं.

हेयर वीविंग है नई तकनीक
हेयर वीव भी नई और सफल तकनीक है जो अधिक बालों के झडऩे पर इस्तेमाल किया जा सकता है. मौजूदा लॉक्स में सिंथेटिक और प्राकृतिक बालों को लगाने के कई तकनीक होते हैं. इसमें से ज्यादातर तकनीक महंगे और दर्द रहित होते हैं.

रोजीन भी कारगर

रोजीन को कई नामों से जाना जाता है जिसमें रोजीन प्रमुख है. यह केमिकल सिर पर लगाया जाता है और इससे पुरुषों में गंजेपन की समस्या कम होती है.लेकिन रोजीन तब तक प्रभावकारी होती है जबतक आप इसका इस्तेमाल करते हैं. यह महिलाओं के लिए भी उपलब्ध है.इस्तेमाल के दौरान हर किसी को इसके साइड इफेक्ट के बारे में पता होना चाहिए। इसके साइड इफेक्ट में खुजली से लेकर वजन बढऩा भी शामिल है.

चुनें हर्बल रास्ता
अगर केमिकल का इस्तेमाल करना आपको पसंद नहीं है तो आप पारंपरिक और प्राकृतिक उपचार को भी अपना सकते हैं. चीनी जीनसेंग का इस्तेमाल भी करते हैं जिसके कई गुण हैं जिसमें बालों का वापस उगना सबसे अधिक प्रभावशाली माना जाता है. अदरक की तरह दिखने वाले इनके जड़ों को उबाला जाता है इसे चाय की तरह या तेल की तरह भी इस्तेमाल किया जाता है. वहीं भारतीय आंवला, रीठा और शिकाकाई को प्राकृतिक कंडीशनर मानते हैं जो बालों को न्यूट्रिएंट भी देते हैं.

सप्लिमेंट भी सटीक उपाय
आपका बाल ज्यादातर केराटीन होते हैं इसलिए इन्हें प्रोटीन से भरपूर डाइट की जरूरत होती है जो बालों का टूटना कम करते हैं.जब हेयर ऑयल में विटामिन ्र और श्व के साथ मिलाया जाता है तो ये निष्क्रिय हेयर फॉलिक्लस को पुनर्जीवित करने का काम करते हैं.बादाम के तेल में विटामिन के कैप्सुल को मिलाकर स्कैल्प पर लगाया जाता है जो काफी फायदेमंद होता है.

नोट: कोई भी उपाय करने से पूर्व डाक्टर से सलाह जरूर ले

Loading...

more recommended stories