जाह्नवी ने इंस्टाग्राम पर शेयर किया मां श्रीदेवी को लिखा भावुक खत

मुंबई । बॉलीवुड की सुपरस्टार अभिनेत्री श्रीदेवी के निधन के लगभग एक हफ्ते बाद बेटी जाह्नवी कपूर ने अपनी मां के लिए एक भावुक पत्र इंस्टाग्राम पर पोस्ट किया है। जाह्नवी ने न सिर्फ अपनी फीलिंग शेयर की,बल्कि अपनी बहन खुशी और पापा बोनी कपूर को लेकर भी कई भावुक बातें शेयर किया है। इतना ही नहीं,मां के लिए बेटी का प्यार और उनके बिना कैसा महसूस होता है, इन सभी बातों को अपने मैसेज के जरिए बताया है। जाह्नवी ने पत्र के शुरुआत में लिखा कि मेरे सीने में दर्दनाक खोखलापन पसर गया है,और मैं जानती हूं कि मुझे इसके साथ ही जीना सीखना होगा… लेकिन तमाम सूनेपन के बावजूद मैं आपका प्यार अब भी महसूस करती हूं…

जाह्नवी ने आगे लिखा कि मैं महसूस करती हूं कि आप मुझे दुख और दर्द से बचा रही हैं। हर बार जब मैं अपनी आंखें बंद करती हूं तो मुझे सिर्फ अच्छी चीजें ही याद आती हैं। मुझे पता आप ही ऐसा कर रही हैं। आप परमात्मा के वरदान की तरह हमारी जिंदगियों में शामिल थी, हम तब तक बेहद खुश थे,जब तक आप हमारी जिंदगी में रहीं। लेकिन, आप इस दुनिया के लिए नहीं थीं। आप बहुत अच्छी, बेहद साफ मन और खूब प्यार देने वाली थीं। इसलिए आपको उन्होंने वापस बुला लिया।

जाह्नवी ने आगे यह भी लिखा कि मेरे दोस्त हमेशा कहते थे कि मैं हमेशा खुश रहती हूं और अब मुझे पता चला कि यह सब सिर्फ आपकी वजह से।
अपने लेटर में जाह्नवी ने मां से वादा करते हुए लिखा कि लेकिन मैं वादा करती हूं मैं अब भी हर रोज इसी सोच के साथ उठूंगी। क्योंकि आप यहां हो और मैं आपके लिए महसूस भी करती हूं।आप मेरे,खुशी और पापा के बीच अभी भी हैं। आप जो चीजें हमारे बीच छोड़कर गई हैं, वह हमें और भी मजबूत बनाती है। इतना ही हमारे लिए आगे बढ़ने के लिए काफी है, लेकिन पूरी तरह से कभी भी पर्याप्त नहीं होगा।

जाह्नवी ने इस लेटर के साथ इंस्टाग्राम पर लिखा कि मैंने और खुशी ने अपनी मां खोई है, लेकिन पापा ने तो अपनी ‘जान’ खो दिया। इस लेटर के साथ जाह्नवी ने यह भी लिखा कि मैं जन्मदिन के मौके पर केवल एक ही चीज पूछना चाहती हूं क्या आप अपने माता-पिता से प्यार करते हैं। आप उन्हें खुश रखें और उनके प्रति प्यार जाहिर करें। जो वो आपके लिए करते हैं। मैं मां की आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना करती हूं। आप लोगों ने मां के प्रति जो प्यार और सपोर्ट दिखाया उस ऐसे ही बरकरार रखें। Agency

Loading...

more recommended stories